UPI Full Form kya hai & kaise kaam karta hai

UPI Full Form फार्म क्या है और यह कैसे काम करता है?

क्या आप जानते है कि UPI Full Form क्या है और यह कैसे काम करता है?  अगर आप नही जानते तो कोई बात नही आज मैं आपको इस पोस्ट “UPI Full Form  के साथ साथ अन्य पहलुओ पर भी सम्पूर्ण जानकारी दूगां। परन्तु क्या आपको 8 अक्टुबर 2016 का दिन याद है? भ्रष्टाचार के खिलाफ सख्त कदम उठाते हुए भारतीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने रात 8 बजे देश के नाम सम्बोंधन में 500 और 1000 रूपये के पुराने नोट को बंद करने का ऐलान किया था।

जिसके कारण अर्थव्यस्था में नकद पैसे की काफी कमी आ गयी थी। जिसके कारण लोगो को काफी कठिनाईयो का सामना करना पडा था। लोगो कि इन तकलिफो को देखते हुए प्रधानमंत्री ने अपने सम्बोंधन में Cashless Economy को बढावा देने की बात की थी। प्रधानमंत्री ने देश के लोगो को पैसे के नकद लेन देन को छोडकर Online Payment करने का सुझाव दिया था। ताकि Cashless Economy को बढ़ावा दिया जा सकते। जिसके लिए Central Govt. नें Cash लेने देने पर कुछ विशेष छुट भी प्रदान की थी।

देश के लिए कैशलेस अर्थव्यवस्था की ओर बढना आसान नही था। लेकिन सभी मुश्किलो को पार करते हुए आज देश की अर्थव्यवस्था Cashless Economy की तरफ अग्रसर हो रही है। आज अधिकांश भारतीय खासकर युवा वर्ग Cashless Economy को बढावा देते हुए Internet का प्रयोग करते हुए Online money transfer कर रहा है। जिसके लिए वह Paytm, PhonePe, Google Pay आदि मोबाईल Applications का इस्तेमाल कर रहा है। Cashless Economy के लिए भारत सरकार ने UPI को बढावा दिया और UPI के प्रयोग पर कुछ Special Offers भी प्रदान किए।

UPI Full-Form क्या है- What is Full Form of UPI?

UPI Full Form यानि कि पूरा नाम Unified Payments Interface होता है। यह एक Real time instant Payment वाला online System है। UPI य़ानी Unified Payments Interface को National Payments Corporation of India ने विकसित किया है। जो एक बैक से उसी बैंक या एक बैंक से दूसरे बैंक में ग्राहक को पैसे ट्रांसफर करने की सुविधा देता है। Money Transfer को आसान बनाने के ले UPI की शुरूआत सन् 2016 में की गयी थी। यह पूर्णतया मोबाईल पर आधारित System है। विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओ में UPI Full Form के बारे में प्रत्याशियो से काफी बार पूछा जाता है।

Unified Payments Interface (UPI) को भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) के द्वारा नियंत्रित (Regulate) किया जाता है। यह एक बैंक account से दूसरे बैंक account में मोबाईल या किसी अन्य Device के माध्यम से तुरन्त Online पैसा ट्रांसफर करने का बेहतरीन माध्यम है। भारत की अधिकांश आबादी आज भी Net Banking का इस्तेमाल नही करती है। आप चाहे किसी भी बैंक से Net Banking कर रहे हो। उसके लिए आपके पास एक Bank की Site पर Login करने के लिए एक User ID की आवश्यकता होती है और साथ ही  Sign in Password की भी आवश्यकता होती है।

जब आप Net Banking के माध्यम से किसी को Payment Transfer करते है, तो आपको Transaction Password & Profile Password की भी आवश्यकता होती है। इन सब User ID व Password को याद रखना काफी मुश्किल होता है। जिसके कारण आज तक Net Banking आमजन में प्रचलित नही हुआ है। केवल वे लोग ही Net Banking का इस्तेमाल Computer या Mobile की अच्छी जानकारी रखने वाले ही कर पता है।

Online पैसे ट्रांसफर करने की सुविधा को आमजन तक पहुँचाने के लिए UPI का आविष्कार किया गया। UPI में आपका मोबाईल नम्बर और e-mail ID का इस्तेमाल होता है। वास्तव में, आपका मोबाईल नम्बर व इमेल ID किसी अन्य का नही हो सकता है। ठीक वैसे ही आपकी UPI ID या VPA (Virtual Payment Address) किसी और व्यक्ति का नही हो सकता है। UPI का बहुत अधिक फायदा होता है।

जिस प्रकार लोग ATM से अपना कार्ड डालकर उसमें अपना 4 या 6 Digit का PIN Number डालकर पैसे निकाल लेते है। ठीक वैसे ही जब एक बार आपके मोबाईल फोन में UPI ID Set हो जाता है, तो आपको Online Transaction करने के लिए किसी प्रकार के Transaction Password की आवश्यकता नही होती है। आपको केवल और केवल 4 या 6 नम्बर के PIN की आवश्यकता होती है। UPI में आपको केवल UPI PIN याद रखने की आवश्यकता है। जिसको आप खुद ही Set करेगें और उसे बदल भी सकते है। यहाँ तक कि आपको अपनी UPI ID भी याद रखने की जरूरत नही है।

आप UPI का इस्तेमाल आप online shopping, बाजार से खरीददारी, Taxi का भाडा, मोबाईल रिचार्ज, DTH Recharge, Bills payment, LIC payments, Air Ticket & Movies Ticket, Restaurant Bills, Retail shopping आदि किसी भी प्रकार की Payment Transfer के लिए कर सकते है। विभिन्न Banks व Payment Gateways के बीच होनी वाली Payment transactions पर NPCI निगरानी रखता है।

UPI के क्या क्या फायदे है?

अब तक मैने आपको UPI Full Form के बारे में बात की है। अब मैं आपको UPI से होने वाले फायदो के बारे में बतलाऊगा। आप UPI का प्रयोग निम्नलिखित लाभ के लिए कर सकते है –

  • UPI के माध्यम से आप online पैसे एक जगह से दूसरी जगह पर VPA (Virtual Payment Address) का उपयोग करते हुए मंगवा सकते है और साथ ही भेज भी सकते है।
  • अगर आपके पास किसी व्यक्ति का केवल और केवल मोबाईल नम्बर है। इसके सिवाय आपके पास उसकी कोई अन्य ID नही है, तो भी आप उसके पास UPI के माध्मय से Online पैसे Transfer कर सकते है। इसके लिए आपको उस आदमी के नाम, Account Number, Bank IFSC Code तक की जरूरत नही होती है। यहाँ तक कि आपको उसके Bank के नाम तक की जरूरत नही होती है। लेकिन यहाँ ध्यान देने योग्य बात यह है कि अगर उस व्यक्ति के दो या अधिक Account UPI से लिंक है, तो उसके पास Payment केवल Primary Account में जाएगा, जो उसके UPI में By Default Set है।
  • अगर आप किसी का खाता नम्बर और Bank IFSC Code जानते है, तो भी आप उसके Account में UPI के माध्यम से पैसा Transfer कर सकते है। जैसा कि पहले भी Net Banking के माध्यम से किया जाता रहा है।
  • अगर किसी का आधार कार्ड Bank Account से लिंक है, तो भी आप केवल आधार नम्बर का प्रयोग करते हुए UPI से पैसे ट्रांसफर कर सकते है।
  • QR Code को Scan करके भी आप UPI के माध्यम से payment या पैसा ट्रांसफर कर सकते है।
  • UPI से आप किसी भी प्रकार की Payment कभी भी कर सकते है। UPI का सबसे बडा फायदा यह है कि आप छुट्टी के दिनो में भी इसका इस्तेमाल कर सकते है।

UPI का प्रयोग कैसे करे?

आज देश में लगभग सभी मुख्य बैंक SBI Bank, Axis Bank, HDFC Bank, ICICI Bank आदि अपने ग्राहको को UPI की सुविधा देते है। लगभग देश के सभी बैंको ने अपने ग्राहको UPI की सुविधा प्रदान करने के लिए मोबाईल Applications बना रखी है। जो कि आपको  Google Play Store या Apple Store पर मिल जाऐगीं। UPI का प्रयोग करने से पहले आपको अपने Android Mobile Phone पर Google Play Store सें, अगर Apple I Phone है, तो Apple Store से Download करना होगा।

इसके लिए आपका जिस Bank में Account है उसकी UPI Mobile Application अपने मोबाईल फोन में Google Play Store or Apple Store से Download कर अपने मोबाईल में Install करनी होगी। अब आपको इसमें Sign Up करना होगा। जिसके लिए यह आपसे आपकी Bank Details भरनी होगी। जब आप बैंक द्वारा मांगी गयी सूचना सही सही भर देगें, तो आपको VPN (Virtual Payment Address) ID मिल जाएगी। यहाँ पर आप अपनी ID Generate कर ले। आपकी यह ID आपका आधार कार्ड नम्बर, मोबाईल नम्बर या Email ID में से कोई भी एक हो सकता है। आपकी यह ID 9999999999@sbi हो की तरह हो सकती है। आप किसी भी अन्य बैंक या online payment gateways पर भी बना सकते है।

मान लिजिए कि आप Bhim Application में BHIM UPI ID बना रहे है, तो इसके लिए आपको निम्नलिखित Steps को Follow करना होगा –

  • Step 1: सबसे पहले आपको Google Play Store से अपने मोबाईल फोन में BHIM Application Download करनी होगी।
  • Step 2: इसके बाद आपको इस मोबाईल Application भाषा का चुनाव करना होगा।
  • Step 3: इसके बाद अगर आपके मोबाईल फोन में दो SIM है, तो वह SIM Select करे, जो आपके Account के साथ रजिस्ट्रर्ड है। (इसके लिए यह जरूरी है कि आपके मोबाईल में वह SIM No. अवश्य हो, जो Bank Account के साथ Registered है)
  • Step 4: एक 4 अंको का Login Password Set करे। जिसकी आवश्यकता आपको इस Application में Enter करने के लिए आवश्यक होगी।
  • Step 5: अपने बैंक Account को Link करे।
  • Step 6: अपने Bank Debit Card के Last Six Digits & Card Expiry Date का इस्तेमाल करते हुए अपना UPI PIN नम्बर Set करे।

अब आपका Bank Account Bhim Application के साथ रजिस्टर हो चुका है। अब UPI के माध्यम में Payment कर सकते है। आप अपने मोबाईल Wallet को भी UPI से जोड सकते है। एक से अधिक बैंक Account को भी जोड सकते है। आपको पता होना चाहिए कि BHIM UPI Full Form – Bharat Interface for Money Unifired Payment Interface होता है।

VPA ID क्या है व VPA Full Form क्या होती है?

क्या आप VPA की Full Form जानते है? अगर नही जानते तो कोई बात नही। मैं बताता हूँ कि VPA की फुल फॉर्म क्या होती है? VPA  Full Form अर्थात UPI ID means “Virtual Payment Address” होता है। यह मोबाईल या Internet पर आपका एक तरह का Unique address होता है। जिससे कि आपकी Online पहचान होती है। जिस प्रकार से आपके घर का पता Unique होता है, वह किसी दूसरे का नही हो सकता है, ठीक उसी तरह आपका VPA  भी किसी अऩ्य आदमी का नही हो सकता है।

ठीक इसी तरह आपका मोबाईल फोन नम्बर जिसे Service Provider ने आपको उपलब्ध कराया किसी और का नही हो सकता, जब तक कि आपने उसको खुद छोडा नही हो। इसी तरह आपकी ईमेल ID भी Unique होती है। Same Email ID किसी अन्य की नही हो सकती है। आपके मोबाईल नम्बर और Email ID की ही तरह आपका VPA ( Virtual Payment Address भी Unique ही होता है। Same VPA किसी अन्य का नही हो सकता है।

विभिन्न Payment Gateways पर आपकी UPI ID क्या हो सकती है।

आजकल Paytm, PhonePe, Freecharge, Amazon Pay, Google Pay जैसी बहुत सारी Mobile Applications है, जो आपको UPI के माध्यम से online payment करने की सुविधा देती है। इन मोबाईल applications में पहले से ही UPI की सुविधा in-built होती है। इन सभी मोबाईल एप्लीकेंशनस में UPI का एक निश्चत Format होता है, केवल ग्राहक का मोबाईल नम्बर बदल जाता है।

अगर आप Paytm पर आपनी UPI ID मोबाईल नम्बर 9999999999 से बनाते है, तो वहाँ पर @paytm आपको पहले से मिलगा। जो कि आपके मोबाईल नम्बर के अन्त में लगकर आपकी UPI ID 9999999999@paytm बन जाता है। ठीक इसी तरह अन्य Payment Gateways की UPI ID नीचे दी गयी है–.

  • Amazon Pay UPI ID: Your Mobile Number@apl
  • PhonePe UPI ID: Your Mobile Number@ybl
  • Paytm UPI ID: Your Mobile Number@paytm
  • Freecharge UPI ID: Your Mobile Number@freecharge
  • Google Pay UPI ID : Your Mobile Number@okaxis

आप एक समय में केवल एक ही UPI ID का प्रयोग कर सकते है।

UPI काम कैसे करता है?

UPI Full Form के साथ साथ हमें UPI काम कैसे करता है, के बारे में भी जानना अति आवश्यक है। UPI Fund ट्रांसफर करने का एक Unique तरीका है। यह Process Net Banking से काफी तेज और आसान है। UPI Payment ट्रांसफर के लिए IMPS तकनीक का इस्तेमाल करता है, जिसका पूरा नाम Immediate Payment Service होता है। IMPS का इस्तेमाल अक्सर Net Banking & Mobile Net Banking में किया जाता है। इस Service को कही भी और किसी भी समय प्रयोग में लाया जा सकता है। यानि कि छुट्टी बैंको की छुट्टी के दिन भी यह Service काम करती है।

आपके मन में यह सवाल अवश्य आया होगा कि जब सभी प्रकार की Net Banking Applications व UPI इसी IMPS Service System पर आधारित है, तो फिर Net Banking व UPI में क्या अन्तर है। फिर UPI अन्य Applications के अलग कैसे है? UPI व अन्य Net Banking Apps में काफी अन्तर है। जिसको हम एक उदाहरण के माध्यम से समझते है।

जब कभी आपको अपने किसी दोस्त या रिश्तेदार को तुरन्त Fund Transfer करना होता था, तो आप क्या करते थे? आप सबसे पहले Net Banking के लिए मोबाईल Application को खोलते थे। उसके लिए आपको Login ID & Login Password की जरूरत होती थी। फिर आपको उस दोस्त या रिश्तेदार का नाम Beneficiary में Add करना होता था। Beneficiary जोडते समय आपको अपने रिश्तेदार या दोस्त आदि जिसके पास पैसा भेजना चाहते है, के Bank Account की Details, IFSC Code, Branch का नाम व अन्य Details भरने की आवश्यकता होती थी। जिनको भरने में आपको काफी समय लगता था।

इससे भी अधिक परेशानी तब होती थी, जब आपके द्वारा जोडा गया Beneficiary को Bank के द्वारा Verify करने में कई घण्टो लगा दिया करता था। जो अब तो घटकर लगभग 30 मीनट हो गया है। जो आपको तुरन्त पैसे भेजने में एक प्रकार से रूकावट बन जाता था। उसके बाद बैंक की Restriction होती है कि पहली बार जोडे गये Beneficiary को कुछ निश्चित Amount से अधिक नही भेज सकते है।

लेकिन दूसरी ओर UPI में किसी भी प्रकार की Details की कोई आवश्यकता नही होती है। केवल UPI ID के माध्यम से आप अपने दोस्त या रिश्तेदार को तुरन्त सुरक्षीत तरीके से पैसे भेज सकते है। इसके लिए आपको अपने दोस्त या रिश्तेदार के Bank Account, IFSC Code, Branch Code, Bank Name & खाता धारक का नाम आदि की कोई आवश्यकता नही होती है।

अगर आपके परिजन की आपके पास UPI ID नही है, तो भी आप उसके आधार कार्ड नम्बर जो उसके बैक Account से जुडा है, उसकी सहायता से उसके Bank Account में पैसे भेज सकते है। अगर किसी की UPI ID और आधार कार्ड नम्बर भी नही है, तो भी आप उसके Bank में Registered मोबाईल नम्बर के माध्यम से उसके Account में पैसे भेजे जा सकते है। UPI के माध्यम से पैसे भेजने की limit 1 लाख रूपये per transaction है। UPI के माध्यम से पैसा Transfer करने की कुछ Fee होती है, जो Rs. 50/- per transaction है। इतने कम खर्चे में आप बिना बैक गए तुरन्त सुरक्षित तरीके से अपने परिजनो को पैसे Transfer कर सकते है।

UPI PIN क्या है- What is UPI PIN?

      जब भी आप किसी को मोबाईल फोन Based UPI App से पैसे भेजते है, तो उसके लिए एक PIN की आवश्यकता होती है। आमतौर पर य़ह 4 अंको का होता है, लेकिन कुछ बैंक 6 अंको का UPI PIN भी इस्तेमाल करने को कहते है। हर UPI App के लिए एक बैक का UPI PIN एक ही होता है। सही अर्थो में यह आपके बैंक की चाबी है। इसके प्रयोग के बिना UPI के माध्यम से पैसा नही भेज सकते है।

यह ATM PIN की तरह आपके Account की कुँजी है। इसका इस्तेमाल केवल UPI Payment के लिए ही कर सकते है। एक बार आपने किसी Bank Account के लिए UPI PIN Generate कर दिया, तो उसे आप किसी भी मोबाईल App में इस्तेमाल कर सकते है। अगर आप UPI PIN के बारे में विस्तार से जानना चाहते है, तो मेरे दूसरे पोस्ट “UPI PIN क्या है और यह कैसे सैट किया जाता है?” पर Click करे।

UPI Service देने वाले बैंको की सूची-

वर्तमान में भारत में काम करने वाले अधिकांश बैको के द्वारा अपने ग्राहको को Mobile Applications के माध्यम से UPI की सुविधाएँ प्रदान की गयी है। जिन बैंको ने इसकी सुविधा दी है उनकी तालिका इस प्रकार है –

  1. ICICI Bank
  2. Axis Bank
  3. State Bank of India
  4. Kotak Mahindra Bank
  5. HDFC Bank
  6. Andhra Bank
  7. Bank of Maharashtra
  8. Catholic Syrian Bank
  9. Canera Bank
  10. DCB
  11. IndusInd Bank
  12. Bank of Baroda
  13. HSBC
  14. Allahabad Bank
  15. Standard Chartered Bank
  16. IDFC Bank
  17. Yes Bank
  18. RBL Bank
  19. IDBI Bank
  20. TJSB Bank
  21. OBC Bank
  22. Vijaya Bank
  23. UCO Bank
  24. Union Bank of India
  25. United Bank of India
  26. South Indian Bank
  27. Punjab National Bank
  28. Karnataka Bank KBL
  29. Federal Bank

Unified Payments Interface (UPI) Related FAQs

Q 1. UPI Full Form क्या होता है?

उत्तरUPI Full form, Unified Payments Interface होता है। जो कि IMPS System पर आधारित एक Real Time Fund Transfer तकनीक है।

Q 2. क्या User को अपने ही Bank Account वाले Bank की UPI को ही Download करना जरूरी है?

उत्तर – नही यह User का अपना फैसला होता है, वह कोई भी UPI Application Download कर सकता है।

Q 3. क्या कोई User Bank Holidays में UPI से पैसे Transfer कर सकता है?

उत्तर – हाँ, कोई भी User UPI के माध्यम से कभी भी और कही भी पैसा ट्रांसफर कर सकता है। UPI का यही सबसे बडी खासियत है कि उससे छुट्टी के दिन भी पैसे भेजे जा सकते है।

Q 4. UPI के माध्यम से कोई User अधिकतम कितनी Amount transfer कर सकता है?

उत्तर – UPI का प्रयोग करते हुए कोई भी Use एक बार में केवल 1 लाख रूपये भेज सकता है। अगर उसे अधिक पैसे भेजने है, तो उसे इसके लिए दूसरी Transaction करनी होगी। जिसकी Fee अलग से लगेगी।

Q 5. क्या हम UPI को iOS में इस्तेमाल कर सकते है?

उत्तर – हाँ, आप iOS based phone में भी इसका इस्तेमाल कर सकते है। इसके लिए आपको Apple Store से App Download करनी होती है

Q 6. UPI कैसे काम करता है?

उत्तर – UPI Payment ट्रांसफर के लिए IMPS (Immediate Payment Service System) तकनीक का इस्तेमाल करता है, IMPS का इस्तेमाल अक्सर Net Banking & Mobile Net Banking में किया जाता है। इस Service को कही भी और किसी भी समय प्रयोग में लाया जा सकता है। यानि कि छुट्टी बैंको की छुट्टी के दिन भी यह Service काम करती है।

मुझे विश्वास है कि आपने मेरा उपरोक्त लेख “UPI Full Form क्या है और यह कैसे काम करता है?  ” अवश्य पंसद किया होगा। मेरी कोशिश  है कि मैं आप लोगो को हिन्दी भाषा में उचित जानकारी दूँ। उसी को अपना ध्येय मानकर  “UPI Full Form क्या है और यह कैसे काम करता है?  ” विषय पर मैने आपके लिए गहन अध्ययन करके यह लेख लिखा है। मुझे विश्वास है कि इस लेख को पढ़ने के बाद आपको किसी अन्य लेख को पढ़ने की आवश्यकता नही होगी।

प्रिय पाठको, मैने अपनी और से ध्यान रखा है कि आपको UPI  के सम्बंध में सही सही जानकारी के साथ  सम्पूर्ण जानकारी मिले। ताकि किसी अन्य लेख को पढ़े बिना ही आपकी Query पूरी हो जावे। जिससे आपका समय बचे। अगर फिर भी आपका इस पोस्ट के सम्बंध में कोई सवाल है, तो मुझे Comments में लिखे। आपके comments का इंतजार रहेगा।

प्रिय पाठको अगर आपको इस पोस्ट को पढकर कुछ फायदा हुआ है तो  इस पोस्ट को अपने दोस्तो, रिश्तेदारो को Social  Platform  Facebook, Twitter के साथ साथ अन्य दूसरे Social Networks site पर share करे।

आपको यह भी अवश्य पढना चाहिए- 

Guru R.P.: I am a part-time blogger, Hindi Abhimaan is a platform where people are informed about various schemes launched by the Government of India and various state governments as well as various services being run to make the benefits of these schemes accessible to the general public so that People can have easy access to these services.

View Comments (0)