Saubhagya Yojana -Pradhan Mantri Sahaj Bijli Har Ghar Yojana

0
1110
saubhagya-yojana

[सौभाग्य योजना] प्रधानमंत्री सहज बिजली हर घर योजना क्या है?| Saubhagya Yojana -Pradhan Mantri Sahaj Bijli Har Ghar Yojana 

Saubhagya Yojana | Pradhan Mantri Sahaj Bijli Har Ghar Yojana | प्रधानमंत्री सहज बिजली हर घर योजना | Saubhagya Scheme | PM Sahaj Bijli Har Ghar Yojana | PMSBHGY

8th April,2021 by Guru R.P. 

Saubhagya Yojana (Pradhan Mantri Sahaj Bijli Har Ghar Yojana) –  भारत सरकार ने व्यक्ति के सामाजिक आर्थिक विकास में बिजली के महत्व को देखते हुए देश के तमाम घरों में बिजली पहुंचाने के लिए Saubhagya Yojana अर्थात प्रधानमंत्री सहज बिजली हर घर योजना की शुरुआत की है। सौभाग्य योजना की शुरुआत प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी द्वारा 25th सितंबर 2017 में की गई थी। प्रधानमंत्री सहज बिजली हर घर योजना को लागू करते समय प्रधानमंत्री ने दिसंबर 2018 तक विद्युतीकरण की प्रक्रिया को पूरा करने का लक्ष्य रखा था।

Saubhagya-Scheme

सौभाग्य  योजना में सामाजिक आर्थिक और जाति आधारित जनगणना के  अंतर्गत आने वाले परिवारों को मुफ्त बिजली कनेक्शन देने की सुविधा प्रदान की गई है तथा अन्य परिवारों को बिजली कनेक्शन के लिए ₹500 शुल्क के तौर पर देना होगा।  Saubhagya Yojana की विस्तृत जानकारी  देने के लिए 16 नवंबर 2016 को भारत सरकार ने ऑफिसियल  वेब पोर्टल की शुरुआत की थी।

इस योजना के अंतर्गत भारत सरकार द्वारा कुल परियोजना व्यय 16320 करोड़ जबकि भारत सरकार  द्वारा सकल बजटीय सहायता के तौर पर 12320 करोड़ रुपए खर्च किया जाएगा। Saubhagya Yojana के अंतर्गत दिए जाने वाले कनेक्शनों में पांच एलईडी लाइट, एक एसी फैन तथा एक एसी पावर प्लग  की सुविधा प्रदान की जाएगी, जिनका रिपेयर और मेंटेनेंस अगले 5 साल तक   भारत सरकार द्वारा किया जाएगा।

PM Ujjwala Yojana 2021

Key Highlights of Pradhan Mantri Sahaj Bijli Har Ghar Yojana

योजना का नाम Pradhan Mantri Sahaj Bijli Har Ghar Yojana ( प्रधानमंत्री सहज बिजली हर घर योजना)
योजना की शुरुआत 25th  सितंबर 2017
योजना का प्रकार  केंद्र सरकार की योजना
योजना  किसके द्वारा शुरू की गई प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा दीनदयाल उपाध्याय की स्मृति दिवस पर।
योजना के लिए मुख्य व्यक्ति तत्कालीन ऊर्जा राज्यमंत्री श्री आर के सिंह
योग्य व्यक्ति सामाजिक, आर्थिक एवं जाति आधारित जनगणना 2011 के अंतर्गत आने वाले गरीब परिवार ( मुफ्त कनेक्शन)  तथा अन्य सभी परिवारों को ₹500 शुल्क के साथ कनेक्शन
संबंधित मंत्रालय  ऊर्जा मंत्रालय भारत सरकार
योजना की अवधि वित्त वर्ष2017-18  से 2018-19
योजना का उद्देश्य गरीब परिवारों को मुफ्त बिजली कनेक्शन उपलब्ध करवाते हुए पूरे देश में विद्युतीकरण करना।
योजना से संबंधित पोर्टल सौभाग्य पोर्टल
आधिकारिक वेबसाइट यहां क्लिक करें
टि्वटर अकाउंट यहां क्लिक करें
फेसबुक अकाउंट यहां क्लिक करें

प्रधानमंत्री सहज बिजली हर घर योजना के अंतर्गत जून 2019 तक लगभग देश के 91 प्रतिशत ग्रामीण घरों में बिजली की आपूर्ति भारत सरकार द्वारा सुनिश्चित की जा चुकी थी।  Saubhagya Yojana के अंतर्गत अक्टूबर 2018 तक बिहार सरकार ने बिहार में 100%  इलेक्ट्रिफिकेशन (विद्युतीकरण) का लक्ष्य पूरा कर लिया था।  वर्तमान में भारत सरकार ने Saubhagya Yojana के अंतर्गत 100% इलेक्ट्रिफिकेशन का लक्ष्य हासिल कर लिया है

Pradhan Mantri Karam Yogi Maandhan Scheme

Saubhagya Scheme 

सौभाग्य योजना की शुरुआत भारत  सरकार के ऊर्जा मंत्रालय द्वारा  2017 में की गई थी। सौभाग्य  योजना का लक्ष्य ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वाले गरीबी रेखा से नीचे तथा गरीबी रेखा से ऊपर जीवन यापन करने वाले प्रत्येक घर तथा शहरी क्षेत्रों में गरीब परिवारों तक बिजली कनेक्शन की पहुंच को सुनिश्चित करना था। Saubhagya Yojana का मुख्य लक्ष्य देश के प्रत्येक घर तक बिजली की सुविधा पहुंचाना है। 

Saubhagya Yojana की शुरुआत के समय देश में लगभग 4 करोड़ परिवार ऐसे थे, जिनके पास अभी तक बिजली कनेक्शन नहीं पहुंच पाया था।  सौभाग्य योजना के अंतर्गत  चिन्हित किए गए इन चार करोड़ परिवारों तक  दिसंबर 2018 तक बिजली कनेक्शन की सुविधा पहुंचाना था। Saubhagya Yojana के क्रियान्वयन के लिए ग्रामीण विद्युतीकरण निगम (Rural Electrification Corporation ) को  नोडल एजेंसी के रूप में नामित किया गया था। 

Saubhagya Scheme को गति देने के लिए भारत सरकार के स्पष्ट निर्देश थे, कि DISCOMs  घरों में बिजली कनेक्शन जारी करने के साथ-साथ आवेदन फार्म भरने की सुविधा प्रदान करने के लिए गांव/ मोहल्लों में शिविरों का आयोजन करेंगे। आवेदन प्रक्रिया को गति देने के लिए बिजली प्रदाता कंपनियों द्वारा डिजिटल माध्यमों का सहारा लिया जाएगा। 

योजना के अंतर्गत बिजली कनेक्शन जारी करते समय  उपभोक्ताओं  का विवरण जैसे  नाम, पता तथा पहचान दस्तावेजों (आधार नंबर/ मोबाइल नंबर/ बैंक अकाउंट/ ड्राइविंग लाइसेंस/ वोटर आईडी कार्ड)  आदि से संबंधित जानकारी बिजली प्रदाता कंपनी स्वयं कलेक्ट करेगी। 

Ayushman Bharat Yojana Registration Online

Saubhagya Yojana Portal 

भारत सरकार के ऊर्जा मंत्रालय ने प्रधानमंत्री सहज बिजली हर घर योजना (Saubhagya Yojana)  के क्रियान्वयन के लिए सौभाग्य स्कीम पोर्टल की शुरुआत 16 नवंबर 2017 को की थी। इस पोर्टल की शुरुआत तत्कालीन राज्य मंत्री श्री आर के सिंह, Power and New & Renewable Energy मंत्रालय भारत सरकार  ने  की थी।  सौभाग्य स्कीम पोर्टल को  नेशनल इंफॉर्मेशन सेंटर  के द्वारा डिजाइन और विकसित किया गया है।

इस पोर्टल को शुरू करने के पीछे भारत सरकार का मुख्य उद्देश्य Saubhagya Yojana के अंतर्गत की जाने वाली इलेक्ट्रिफिकेशन प्रोसेस को तेज गति देते हुए मॉनिटर करना था।  पोर्टल के माध्यम से प्रधानमंत्री सहज बिजली हर घर योजना से संबंधित  तमाम प्रकार की सूचनाओं के साथ-साथ देशभर में गांव वार घरेलू विद्युतीकरण स्थिति के बारे में जानकारी प्रस्तुत की गई है।

Saubhagya Yojana का दायरा 

प्रधानमंत्री सहज बिजली हर घर योजना के माध्यम से ग्रामीण इलाकों में सभी गैर विद्युतीकरण घरों में बिजली कनेक्शन प्रदान करना था। योजना के अंतर्गत सुदूर और दुर्गम गांव/ बस्तियों में स्थित गैर विद्युतीकृत घरों  जहां बिजली की लाइन पहुँचाना  असंभव है या अत्यधिक खर्च लगना तय है, तो ऐसी परिस्थिति में सौर फोटोवोल्टिक (Solar Photovoltaic – SPV)) आधारित stand-alone प्रणाली प्रदान  की गई है।  ग्रामीण इलाकों में रहने वाले गरीबी रेखा से नीचे ऊपर जीवन यापन करने वाले गरीब लोगों को मुफ्त कनेक्शन की सुविधा प्रदान की गई है जबकि अन्य लोगों को बिजली कनेक्शन के शुल्क के तौर पर ₹500  देना होगा।

Saubhagya Yojana के माध्यम से सरकार शहरी क्षेत्रों में रहने वाले शेष सभी आर्थिक रूप से गरीब गैर विद्युतीकृत परिवारों को बिजली कनेक्शन उपलब्ध कराना चाहती है। शहरी क्षेत्रों में रहने वाले गैर गरीब परिवारों को इस योजना का हिस्सा नहीं बनाया गया है।

Pradhan Mantri Ujala Yojana 

Saubhagya Yojana पात्रता मानदंड 

Pradhan-Mantri-Sahaj-Bijli-Har-Ghar-Yojana

प्रधानमंत्री सहज बिजली हर घर योजना के अंतर्गत  निम्नलिखित परिवारों को बिजली कनेक्शन के लिए शामिल किया गया है।

  • बिना छत के घरवाले  परिवार।
  • बेसहारा  तथा दीक्षा पर आश्रित परिवार या व्यक्ति।
  • मैन्युअल स्कैवेंजर परिवार।
  • कानूनी रूप से मुक्त बंद हुआ परिवार या व्यक्ति।
  • आदिम जनजाति समूह  से संबंधित परिवार। 
  • कानूनी रूप से जारी बंधुआ मजदूरी।

उपरोक्त प्रकार के सभी परिवारों को जिनके पास रहने के लिए घर/झुग्गी/आहाता है, उन्हे Saubhagya Yojana के अंतर्गत मुफ्त बिजली कनेक्शन उपलब्ध कराए जाएंगे। 

निम्नलिखित 7 पैरामीटर के अंतर्गत आने वाले परिवारों को भी सौभाग्य योजना के अंतर्गत मुफ्त बिजली कनेक्शन के अंदर शामिल किया गया है।

  • ऐसे परिवार जिनके पास केवल एक कमरे, कूचा की दीवार और कूचा की छत वाले घर हो।
  • ऐसा परिवार जिसमें 16 और 59 वर्ष की आयु के बीच कोई वयस्क सदस्य नहीं हो।
  • ऐसी महिला मुखिया का परिवार जिसमें 16 से 59 वर्ष की आयु के बीच कोई वयस्क पुरुष सदस्य नहीं  को।
  • विकलांग व्यक्ति  का परिवार जिसमें कोई सक्षम वयस्क सदस्य  नहीं हो।
  • अनुसूचित जाति तथा अनुसूचित जनजाति से संबंध रखने वाले परिवार। 
  • ऐसे परिवार जिनमें 25 वर्ष से ऊपर के वयस्क  शिक्षित ना हो।
  • भूमिहीन परिवार जिनकी आय का बड़ा हिस्सा मैनुअल कैजुअल लेबर से प्राप्त होता हैं। 

नोट- Saubhagya Yojana के अंतर्गत उन परिवारों को भी शामिल किया गया है और जो उपरोक्त किसी भी श्रेणी में नहीं आते हैं तथा जिनके घर पर अब तक बिजली कनेक्शन नहीं है। लेकिन उपरोक्त घरों को बिजली कनेक्शन लेने के लिए ₹500  शुल्क के तौर पर देना अनिवार्य है

Atal Pension Yojana Online Apply कैसे करे?

Saubhagya Yojana की विशेषताएं

  • सौभाग्य योजना के अंतर्गत लाभार्थी परिवारों की पहचान सामाजिक, आर्थिक  और जाति आधारित जनगणना 2011 के आंकड़ों के आधार पर की गई है।
  • योजना के अंतर्गत दिए जाने वाले बिजली कनेक्शन मुफ्त में प्रदान किए जाएंगे।
  • SECC 2011 के आंकड़ों के अलावा भी उन परिवारों को इस योजना के अंतर्गत शामिल किया गया है जिन्हें अभी तक बिजली कनेक्शन उपलब्ध नहीं हो पाया है। लेकिन उन्हें इसके लिए अतिरिक्त भुगतान करना होगा।
  • SECC 2011 के आंकड़ों से बाहर परिवारों को  बिजली कंपनी को ₹500 शुल्क के तौर पर भुगतान करना होगा। 
  • बिजली प्रदाता कंपनी ₹500 की राशि को  उपभोक्ताओं के बिजली बिलों में 10 किस्तों में  जोड़ देगी। 
  • Saubhagya Yojana में गैर विद्युतीकृत घरों में बिजली  कनेक्शन के दौरान  लाइन केबल, प्रीपेड/ स्मार्ट मीटर, सिंगल प्वाइंट वायरिंग सहित ऊर्जा मीटर जैसी सुविधाएं प्रदान करने के प्रावधान शामिल है।
  • एलइडी लैंप तथा संबंधित सामान तकनीकी स्पेसिफिकेशन और कंस्ट्रक्शन स्टैंडर्ड के साथ उपलब्ध कराए जाएंगे।
  • दूरस्थ और दुर्गम क्षेत्रों में बसे गैर विद्युतीकृत घरो के संबंध में अधिकतम 5 एलईडी लाइट्स, 1 डीसी फैन, 1 डीसी पावर प्लग आदि के साथ 200 से 300 डब्ल्यूपी (बैटरी बैंक के साथ) के पावर पैक प्रदान किए जाने का प्रावधान है।
  • बिजली उपभोक्ताओं को  Saubhagya Yojana के अंतर्गत उपरोक्त उपकरणों के  को उपलब्ध कराने के साथ-साथ 5 साल तक रिपेयर और मेंटेनेंस की सुविधा भी प्रदान की जाएगी। 

[eNAM] National Agriculture Market Registration कैसे करे? 

Pradhan-Mantri-Sahaj-Bijli-Har-Ghar-Yojana

  • दीनदयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना (DDUGJY Scheme) के अंतर्गत  निजी क्षेत्र की सभी बिजली प्रदाता कंपनियां, राज्य विद्युत विभाग तथा ग्रामीण विद्युत सहकारी समितियां वित्तीय सहायता के लिए पात्र होंगी। 
  • जिन राज्य विद्युत बोर्ड होने योजना की शुरुआत से पहले ही किसी अन्य योजना के अंतर्गत विद्युतीकरण प्रोजेक्ट शुरू किए थे, उन्हें भी इस योजना के अंतर्गत शामिल किया गया है। 
  • डीडीयूजीजेवाई योजना के तहत पहले से स्वीकृत बीपीएल परिवारों को मुफ्त कनेक्शन देने के लिए कुछ पात्र संस्थाएं अभी भी सुविधा प्रदान कर रही हैं।
  • डीडीयूजीजेवाई योजना के अंतर्गत ऐसी इकाइयां परियोजना क्षेत्र में पर्याप्त संख्या में बीपीएल परिवारों को खोजने में सक्षम नहीं है, तो नकल की किसी भी संभावना से बचने के लिए ऐसे परिवारों पर Saubhagya Yojana के तहत सेवा कनेक्शन लागत के वित्तपोषण का विचार नहीं किया जाएगा।
  • Saubhagya Yojana के अंतर्गत  उपभोक्ताओं का विवरण जैसे  नाम, पता तथा पहचान पत्र ( आधार नंबर/ मोबाइल नंबर/ बैंक/ ड्राइविंग लाइसेंस/ वोटर आईडी कार्ड) आदि जो भी उपलब्ध हो बिजली प्रदाता कंपनियां (DISCOMS) एकत्रित करेंगी।
  • उपभोक्ता  द्वारा बिजली कनेक्शन  प्राप्त करने के लिए किसी विशेष दस्तावेज का पास रखना आवश्यक नहीं है। 
  • ऐसे  परिवार जिसका कनेक्शन पहले ही डिफाल्टर के तौर पर कट चुका है, उन्हें Saubhagya Yojana का लाभ प्रदान नहीं किया जाएगा। 
  • ऐसे व्यक्ति द्वारा पुराने बिलों का भुगतान करने पर बिजली प्रदाता कंपनी  पुणे कनेक्शन के लिए विचार कर सकती है।
  • प्रधानमंत्री सहज बिजली हर घर योजना के अंतर्गत भारत सरकार द्वारा कुल परियोजना खर्च 16320 करोड़, जबकि भारत सरकार द्वारा सकल बजटीय सहायता के तौर पर 12320 करोड़ रुपए खर्च किया जाएगा। 
  • इस योजना के अंतर्गत ग्रामीण क्षेत्रों पर 14025 करोड़ तथा शहरी क्षेत्रों पर 2295 करोड़ रुपये खर्च किए गए हैं।
  • Saubhagya Yojana में वित्त पोषण के लिए राज्यों को दो मुख्य कैटेगरी में बांटा गया है। सिक्किम,  हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, जम्मू एंड कश्मीर  सहित तमाम उत्तर-पूर्व राज्यों को विशेष कैटेगरी में शामिल किया गया है। अंडमान निकोबार दीप समूह तथा लक्षद्वीप को भी विशेष कैटेगरी में शामिल किया गया है।
  • Saubhagya Yojana के अंतर्गत भारत सरकार द्वारा विशेष राज्यों को  योजना खर्च का 85% तथा अन्य राज्यों को योजना लागत का 60%   राशि  प्रदान की जाएगी। 
  • इस योजना के अंतर्गत गैर गरीब शहरी परिवारों को छोड़कर लगभग तीन करोड़ गरीब परिवारों को शामिल किया गया है।
  • दीनदयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना के लिए गठित की गई मॉनिटरिंग कमेटी ऊर्जा मंत्रालय के सचिव की अध्यक्षता में Saubhagya Yojana के क्रियान्वयन के लिए ऑपरेशनल गाइडलाइंस जारी करेगी। यह कमेटी ही पूरी योजना की मॉनिटरिंग करेगी।
  • रूरल इलेक्ट्रिफिकेशन कॉरपोरेशन लिमिटेड को Saubhagya Yojana के क्रियान्वयन के लिए नोडल एजेंसी नियुक्त किया गया है।
  • दीनदयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना के अंतर्गत अपनाई गई मॉनिटरिंग प्रणाली तथा DISHA के इंस्टीट्यूशनल मैकेनिज्म  को इस योजना के अंतर्गत फॉलो किया जाएगा।
  • ग्राम पंचायत/सार्वजनिक संस्थाओं को  Saubhagya Yojana के अंतर्गत ग्रामीण इलाकों में एप्लीकेशन फॉर्म, डॉक्यूमेंटेशन तथा बिल वितरण के कार्यों में भागीदारी दी गई है।
  • इस योजना के अंतर्गत  क्षेत्रों में स्थित घरों को बिजली आपूर्ति के लिए सौर फोटोवोल्टिक (Solar Photovoltaic – SPV)) आधारित stand-alone प्रणाली  के पर प्रति घर  ₹50000 खर्च किए गए हैं।

Rashtriya Vayoshri Yojana क्या है?

प्रधानमंत्री सहज बिजली हर घर योजना की स्थिति कैसे देखे?

Saubhagya-Yojana

भारत सरकार ने प्रधानमंत्री सहज  बिजली हर घर योजना अर्थात Saubhagya Yojana की मॉनिटरिंग के लिए सौभाग्य पोर्टल की शुरुआत की थी। इस पोर्टल के माध्यम से कोई भी नागरिक देश के किसी भी हिस्से विद्युतीकरण की जानकारी ऑनलाइन प्राप्त कर सकता है। यदि कोई व्यक्ति Saubhagya Yojana के अंतर्गत देश के किसी क्षेत्र विशेष के विद्युतीकरण की जानकारी प्राप्त करना चाहता है तो नीचे दिए गए स्टेप्स को फॉलो करें।

  • सर्वप्रथम प्रधानमंत्री सहज बिजली हर घर योजना पोर्टल की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं। आधिकारिक वेबसाइट का होम पेज खुल जाएगा। 
  • Home Page पर नेविगेशन मेनू के ऊपर Header में  State के Drop Down List से अपनी State को Select करे। 
  • जैसे ही आप अपने State का चुनाव करते हैं, तो आपके System की स्क्रीन पर चुने गए State के विद्युतीकरण की सूचनाएं प्रदर्शित हो जाएंगी। District के Drop Down List से अपने District का चुनाव करे। 
  • जैसे ही आप अपने District का चुनाव करते हैं, तो आपके System की स्क्रीन पर चुने गए District के विद्युतीकरण की सूचनाएं प्रदर्शित हो जाएंगी। Village के Drop Down List से अपने Village  का चुनाव करे। 
  • इसके बाद Type of Area & Discom का चुनाव करे। जैसे ही आप अपने Village का चुनाव करते हैं, तो आपके System की स्क्रीन पर चुने गए Village के विद्युतीकरण की सूचनाएं प्रदर्शित हो जाएंगी। 
  • आप सौभाग्य डैशबोर्ड प्रदर्शित मैप के पर्टिकुलर हिस्से पर क्लिक  करके भी किसी स्थान विशेष के विद्युतीकरण की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। 

निष्कर्ष 

प्रधानमंत्री सहज बिजली हर घर योजना को Saubhagya Yojana के नाम से भी जाना जाता है। इस योजना की शुरुआत प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने आजादी के 70 सालों के बाद भी बिजली कनेक्शन से वंचित  गरीब परिवारों को ध्यान में रखते हुए  शुरू किया गया था। इस योजना के अंतर्गत लगभग 16000 करोड रुपए खर्च किए गए  और छत्तीसगढ़ राज्य को छोड़कर 2019 तक लगभग देश के सभी राज्यों ने 100% विद्युतीकरण का लक्ष्य हासिल कर लिया था।

Also Read: – Pradhan Mantri Awas Yojana Gramin