मुख्य मंत्री घर घर राशन योजना क्या है?| Mukhya Mantri Ghar Ghar Ration Yojana- MMGGRY

Mukhya Mantri Ghar Ghar Ration Yojana|मुख्यमंत्री घर घर राशन योजना|Mukhya Mantri Ghar Ghar Ration Yojana Delhi | MMGGRY |Ghar Ghar Ration Yojana SMS|Chief Minister Ghar Ghar Ration Scheme|Delhi Ghar Ghar Ration Yojana |Mukhya Mantri Ghar Ghar Ration Yojana Apply Online


22nd March, 2021 by Guru R.P.


Mukhya Mantri Ghar Ghar Ration Yojana : – दिल्ली सरकार ने गरीब लोगों  तक खाद्य सुरक्षा अधिनियम 2013 के तहत केंद्र सरकार द्वारा प्रदान किए जाने वाले खाद्यान्न  की पहुंच सुनिश्चित करने के लिए Mukhya Mantri Ghar Ghar Ration Yojana की शुरुआत की है। 

भारत सरकार संसद द्वारा पारित खाद्य सुरक्षा अधिनियम 2013 के अंतर्गत विभिन्न राज्यों को सार्वजनिक वितरण प्रणाली (PDS) के माध्यम से लगभग 81.35 करोड़ गरीब लोगों को 1 से 3 रुपए प्रति किलोग्राम की रियायती दर पर अनाज देने के लिए राज्यों को खाद्यान्न आवंटित करती है। इस खाद्यान्न  को गरीब लोगों तक पहुंचाने की जिम्मेदारी राज्य सरकार की होती है। 

मुख्यमंत्री घर घर राशन योजना के नाम से दिल्ली में 25 मार्च 2021 से डोर स्टेप राशन की व्यवस्था मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के द्वारा शुरू की जा रही है। दिल्ली के मुख्यमंत्री द्वारा इस योजना की शुरुआत सीमापुरी के 100 घरों में राशन की सीधी डिलीवरी करके शुरू की जाएगी। इस योजना के अंतर्गत राज्य सरकार द्वारा लाभार्थियों को गेहूं ना पहुंचा कर गेहूं के स्थान पर आटा पहुंचाया जाएगा।  राज्य सरकार द्वारा गेहूं चावल व  चीनी पैकेट्स में पहुंचाई जाएगी।

इस लेख के माध्यम से आप लोगों के समक्ष Mukhya Mantri Ghar Ghar Ration Yojana से संबंधित तमाम जानकारियां विस्तृत रूप से प्रदान की जाएगी। इस योजना से जुड़ी तमाम जानकारियां प्राप्त करने के लिए मेरे इस लेख को अंत तक अवश्य पढ़ें। 

Key Highlights Delhi Ghar Ghar Ration Yojana

 

योजना का नाम मुख्यमंत्री घर-घर राशन योजना(Mukhya Mantri Ghar Ghar Ration Yojana)
योजना की शुरुआत  मुख्यमंत्री श्री अरविंद केजरीवाल द्वारा
योजना की घोषणा 21 जुलाई 2020 
योजना का शुभारंभ 25 मार्च 2021 सीमापुरी दिल्ली से
लाभार्थी खाद्य सुरक्षा अधिनियम के अंतर्गत आने वाले  गरीब परिवार
योजना का उद्देश्य खाद्य सुरक्षा अधिनियम के अंतर्गत आने वाले लोगों के द्वार तक राशन की सीधी पहुंच सुनिश्चित करना
लाभार्थी की पहचान बायोमेट्रिक तरीके से
योजना के क्रियान्वयन व निगरानी  के लिए संस्था दिल्ली राज्य नागरिक आपूर्ति निगम लिमिटेड

Delhi Ration Card Online Apply

खाद्य सुरक्षा अधिनियम 2013 के अंतर्गत आवंटन

खाद्य सुरक्षा अधिनियम 2013 के अंतर्गत  गरीब लोगों को सस्ती कीमतों पर उचित मात्रा में गुणवत्तापूर्ण खाद्यान्न की पहुंच सुनिश्चित करते हुए उन्हे खाद्य एवं पोषण सुरक्षा प्रदान की गई है। खाद्य सुरक्षा अधिनियम 2013 के अंतर्गत ग्रामीण क्षेत्रों के लगभग 75% व शहरी क्षेत्रों के लगभग 50% आबादी को सार्वजनिक वितरण प्रणाली के माध्यम से कवर किया गया है।

इस नियम के अंतर्गत सार्वजनिक वितरण प्रणाली भारत सरकार व राज्य सरकारों की संयुक्त जिम्मेदारी के अंतर्गत संचालित की जाती है।  केंद्र सरकार भारतीय खाद्य निगम के माध्यम से राज्य सरकारों को खाद्यान्न ने की खरीद, भंडारण, परिवहन और थोक आवंटन की जिम्मेदारी प्रदान करती है। किसी भी राज्य के अंदर खाद्यान्न आवंटन,  पात्र परिवारों की पहचान सुनिश्चित करना, पात्र परिवार के व्यक्तियों को खाद्यान्न का वास्तविक वितरण सुनिश्चित  करना आदि की जिम्मेवारी राज्य सरकारों को दी गई है।

दिल्ली में वर्तमान खाद्यान्न वितरण प्रणाली

वर्तमान में दिल्ली सरकार योजना के अंतर्गत आने वाले लाभार्थी कार्ड धारकों को प्रतिमाह प्रति व्यक्ति 5 किलो राशन जिसमें 4 किलो गेहूं ₹2 प्रति किलो एवं 1 किलो चावल  ₹3 प्रति किलो प्रदान कर रही है।  इसके अलावा अंत्योदय योजना के अंतर्गत लाभार्थी परिवारों को हर महीने 35 किलो खाद्यान्न (25 किलो  गेहूं ₹2 प्रति किलो तथा 10 किलो चावल ₹3 प्रति किलो) रियायती दरों पर उपलब्ध कराया जा रहा है। 

दिल्ली सरकार भारतीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम के अंतर्गत भारत सरकार द्वारा प्रदान किए जाने वाले खाद्यान्न को भारतीय खाद्य निगम के गोदामों से उचित मूल्य की दुकानों तक दिल्ली राज्य नागरिक आपूर्ति निगम लिमिटेड की सहायता से पहुंचा रही है। दिल्ली राज्य नागरिक आपूर्ति निगम लिमिटेड एक  पूर्ण सरकारी स्वामित्व वाली संस्था है। वर्तमान में यह संस्था भारतीय खाद्य निगम के 6 गोदामों से गेहूं और चावल तथा दिल्ली सरकार के स्वामित्व वाले दो गोदामों से चीनी को उचित मूल्य की दुकानों तक पहुंचाने का कार्य कर रही है। 

वर्तमान में दिल्ली सरकार भारतीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम के अंतर्गत केंद्र सरकार से मिलने वाले खाद्यान्न का वितरण टीपीडीएस लाभार्थियों तक लगभग 2000 से अधिक लाइसेंस धारी उचित मूल्य की दुकानों के नेटवर्क के माध्यम से  सार्वजनिक वितरण प्रणाली के दिशानिर्देशों को अपनाते हुए पहुंचा रही है। 

Check Delhi Police FIR Status Online

मुख्यमंत्री घर घर राशन योजना -Mukhya Mantri Ghar Ghar Ration Yojana

दिल्ली सरकार ने सार्वजनिक वितरण प्रणाली के माध्यम से गरीबों तक पहुंच रहे  खाद्यान्न  में हो रहे भ्रष्टाचार को रोकने के लिए  गरीब लोगों के घर तक राशन पहुंचाने के लिए  मुख्यमंत्री घर-घर राशन योजना (Mukhya Mantri Ghar Ghar Ration Yojana) की शुरुआत की है।

दिल्ली सरकार लक्षित सार्वजनिक वितरण प्रणाली में सुधार के साथ-साथ लाभार्थी तक मासिक राशन पारदर्शी तरीके से पहुंचाने के उद्देश्य से मुख्यमंत्री घर-घर राशन योजना को लेकर आई है। 

Mukhya Mantri Ghar Ghar Ration Yojana शुरू करने के पीछे दिल्ली सरकार का मुख्य उद्देश्य सस्ती कीमतों पर गुणवत्तापूर्ण खाद्य वास्तविक मात्रा में वास्तविक लाभार्थी के द्वार तक पहुंचाना है। राज्य सरकार MMGGRY के अंतर्गत  लाभार्थी परिवारों को गेहूं  ना पहुंचा कर गेहूं के बदले गेहूं  के आटे का पैकेट  व चावल के पैकेट उनके घर तक पहुंचाया जाएगा।  गेहूं की पिसाई वह पैकेजिंग पर लगने वाला खर्चा राज्य सरकार के द्वारा वहन किया जाएगा।

इस योजना के अंतर्गत राज्य सरकार लाभार्थियों को विकल्प देगी कि वे  अपनी मर्जी से जिस  उचित मूल्य की दुकान से राशन लेना चाहते हैं तो वह वहां से राशन लेते रहें और अगर वे अपने घर पर राशन चाहते हैं, तो इस योजना के लिए आवेदन कर लाभ प्राप्त कर सकते हैं।

मुख्यमंत्री घर-घर राशन योजना में राशन वितरण प्रक्रिया 

Mukhya Mantri Ghar Ghar Ration Yojana के अंतर्गत दिल्ली सरकार द्वारा दिल्ली राज्य नागरिक आपूर्ति निगम द्वारा निविदा प्रक्रिया के माध्यम से पिसाई व खाद्यान्न ने की पैकिंग  के लिए  कुछ मिलों का चयन किया जाएगा। खाद्य सुरक्षा अधिनियम के अंतर्गत भारत सरकार से मिलने वाले खाद्यान्न ने को भारतीय खाद्य निगम के गोदामों से इनमें लो तक पहुंचाया जाएगा।  जहां गेहूं को पीसकर गेहूं के आटे में परिवर्तित किया जाएगा और आवश्यकता अनुसार अलग-अलग भजन की विभिन्न पैकेट्स में  पैक किया जाएगा। 

इसी तरीके से वितरित किए जाने वाले चावल को भी निविदा के माध्यम से  चुनी गई   प्रसंस्करण इकाइयों को  प्रसंस्करण (साफ सफाई) के लिए  भेजा जाएगा और आवश्यकता अनुसार अलग-अलग वजन के पैकेट में पैक किया जाएगा।  प्रसंस्करण इकाइयों के द्वारा पैकेजिंग के बाद खाद्यान्नों को एफपीएस को भेजा जाएगा।  एपपीएस इन खाद्यान्नों को आवश्यकता अनुसार लाभार्थी तक पहुंचाने के लिए जिम्मेदार होंगे।  FPS  द्वारा पैक किए गए खाद्यान्न ( गेहूं का आटा और चावल)  का वितरण e-POS  उपकरणों की सहायता से लाभार्थी के बायोमेट्रिक प्रमाणीकरण के बाद किया जाएगा। खाद्यान्नो की अनुमानित लागत और  रूपांतरण शुल्क के रूप में एक निर्धारित राशि लाभार्थी से ली जाएगी। 

Mukhya Mantri Ghar Ghar Ration Yojana एक वैकल्पिक योजना होगी जिसके अंतर्गत दिल्ली में रहने वाले गरीब लोगों को यह विकल्प प्रदान किया जाएगा कि वह मुख्यमंत्री घर-घर राशन योजना (MMGGRY) के अंतर्गत नामांकन करना चाहते हैं या फिर मौजूदा TPDS के तहत राशन लेना जारी रखना चाहते हैं। जो लोग  मुख्यमंत्री घर-घर राशन योजना का चयन नहीं कर रहे हैं, उन्हें पुरानी व्यवस्था के अनुरूप राशन मिलता रहेगा।  लेकिन लाभार्थी को प्रत्येक वित्तीय वर्ष की शुरुआत में  Mukhya Mantri Ghar Ghar Ration Yojana (MMGGRY) के अंतर्गत नामांकन करने का विकल्प  उपलब्ध/मिलता रहेगा।

DDA Housing Scheme- 2021 Online Registration

Mukhya Mantri Ghar Ghar Ration Yojana का क्रियान्वयन

दिल्ली सरकार ठीक कैबिनेट ने मुख्यमंत्री श्री अरविंद केजरीवाल की अगुवाई में भारतीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम के अंतर्गत केंद्र सरकार से मिलने वाले खाद्य पदार्थों  की पहुंच गरीब लोगों तक सुनिश्चित करने के लिए मुख्यमंत्री घर घर राशन योजना की शुरुआत की है। इस योजना को दो चरणों में पूरा किया जाएगा।

Mukhya Mantri Ghar Ghar Ration Yojana का प्रथम चरण

प्रथम चरण के अंतर्गत दिल्ली सरकार दिल्ली राज्य नागरिक आपूर्ति निगम लिमिटेड को क्रियान्वयन और निगरानी एजेंसी के रूप में नियुक्त किया जाएगा। भारतीय खाद्य निगम के गोदामों से खाद्यान्नों ( गेहूं और चावल)  को निविदा के आधार पर राज्य सरकार द्वारा चयनित प्रोसेसिंग इकाइयों तक पहुंचाने की जिम्मेदारी  दिल्ली राज्य नागरिक आपूर्ति निगम लिमिटेड की ही होगी। प्रोसेसिंग इकाइयों में प्रोसेसिंग के बाद अलग-अलग वजन की पैकेजिंग करके  राज्य सरकार द्वारा नामित उचित मूल्य की दुकानों (FPS) पर लाभार्थियों  के द्वार तक पहुंचाने के लिए  भेजा जाएगा

Mukhya Mantri Ghar Ghar Ration Yojana के लिए मिली और प्रोसेसिंग इकाइयों की स्थापना और संचालन करने वाले मिलर्स को सूचीबद्ध करने का कार्य भी डी एस एस एस सी लिमिटेड द्वारा ही किया जाएगा।  दिल्ली राज्य नागरिक आपूर्ति निगम लिमिटेड द्वारा सूचीबद्ध किए गए मिलर्स ही भारतीय खाद्य निगम के गोदामों से खाद्यान्नों ( गेहूं और चावल) लेकर  चुनी गई मिलिंग और प्रोसेसिंग इकाइयों तक पहुंचाने के लिए जिम्मेदार होंगे। 

प्रोसेसिंग इकाइयों के द्वारा गेहूं को साफ करके आटे में परिवर्तित किया जाएगा तथा चावल की अशुद्धियों  जैसे तिनके,  कंकड़ पत्थर, जुट के रेशे को  दूर किया जाएगा। गेहूं के आटे व साफ किए गए चावल को तय किए गए गुणवत्ता मानको के आधार पर अलग-अलग  वजन के पैकेट में पैक किया जाएगा। इन पैकेट्स पर बैच का नाम, पैकिंग की तिथि, डेट ऑफ एक्सपायरी तथा अन्य सूचनाएं लिखी हुई होंगी। 

पैकेजिंग के बाद इन पैकेड वस्तुओं को लाभार्थियों के घर तक पहुंचाने के लिए दिल्ली कंजूमर कोऑपरेटिव होलसेल स्टोर लिमिटेड (DCCWS)  की उचित मूल्य की दुकानों (FPS) पर पहुंचाया जाएगा। 

भूलेख दिल्ली Delhi Land Record Computerization

Mukhya Mantri Ghar Ghar Ration Yojana का दूसरा चरण- 

दूसरे चरण के अंतर्गत दिल्ली कंजूमर को-ऑपरेटिव होलसेल स्टोर लिमिटेड (DCCWS)  को दिल्ली में उचित मूल्य की दुकानों (FPS)  को सुविधानुसार स्थापित करने की जिम्मेदारी दी गई है। दिल्ली कंजूमर को-ऑपरेटिव होलसेल स्टोर लिमिटेड को यह भी जिम्मेदारी दी गई है कि वह डायरेक्ट टू होम एजेंसी की सहायता से उचित मूल्य की दुकानों से लाभार्थियों के घर तक वस्तुओं को वितरित करेगा। 

मुख्यमंत्री घर  घर राशन योजना के अंतर्गत लाभार्थियों तक पैकेड वस्तुओं को वितरित करने के लिए डीसीसीडब्ल्यूएस की उचित मूल्य की दुकानों का उपयोग किया जाएगा। MMGGRY के अंतर्गत पैकेड सामान की डिलीवरी लाभार्थियों तक सुनिश्चित करने  का उत्तरदायित्व डीसीसीडब्ल्यूएस द्वारा नियुक्त की गई डी एच डी एजेंसियों  का होगा।  डायरेक्ट होम डिलीवरी  एजेंसी एसएमएस के माध्यम से लाभार्थी को इसकी अग्रिम सूचना देगी। 

डीएचडी एजेंसी पेक्ड राशन को लाभार्थी तक पहुंचाने से पहले ई- पीओएस डिवाइस के माध्यम से लाभार्थी का बायोमेट्रिक प्रमाणीकरण करेगा। लाभार्थी को प्रदान की गई प्रत्येक डिलीवरी का रिकॉर्ड ई- पीओडी (डिलीवरी का प्रमाण) में दर्ज किया जाएगा।  राशन लाभार्थी को विकल्प दिया जाएगा कि वह राशन कार्ड के अंतर्गत मिलने वाले खाद्यान्न ने को एक से अधिक किस्तों में प्राप्त कर सकता है। 

Mukhya Mantri Ghar Ghar Ration Yojana के अंतर्गत योजना से संबंधित शिकायतों के निराकरण के लिए एक शिकायत प्रबंधन प्रणाली की व्यवस्था की जाएगी। योजना के लाभार्थियों के लिए एक कॉल सेंटर भी स्थापित किया जाएगा।  डायरेक्ट होम डिलीवरी एजेंसी के माध्यम से समय-समय पर योजना से जुड़ी जानकारियां लाभार्थियों तक पहुंचाई जाएंगी।

राज्य सरकार द्वारा योजना की पारदर्शिता को सुनिश्चित करने और लीकेज/ डायवर्सन/ प्रतिस्थापन/ खाद्य ने चोरी आदि को रोकने के लिए निगरानी तंत्र विकसित किया जाएगा। इस निगरानी तंत्र के अंतर्गत  फूड कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया से   खाद्य पदार्थों को उठाने से लेकर मिलिंग/ पैकेजिंग तथा लाभार्थी तक राशन पहुंचाने की व्यवस्था को सीसीटीवी मॉनिटरिंग के दायरे में लाया जाएगा।  साथ ही  राशन  के परिवहन में लगे  तमाम वाहनों को जीपीएस सिस्टम से लैस किया जाएगा।

मुख्यमंत्री घर घर राशन योजना (MMGGRY) का उद्देश्य

आपने अक्सर देखा होगा की राशन की दुकानों पर राशन लेने वालों की लंबी लंबी कतारें लगी रहती हैं और लाभार्थियों को समय पर राशन नहीं मिल पाता है।  कोरोना संक्रमण के दौरान खाद्य सुरक्षा अधिनियम के अंतर्गत आने वाले लाभार्थियों को रियायती दरों पर राशन प्राप्त करने के लिए  घंटों लंबी-लंबी कतारों में खड़ा रहना पड़ा था। लोक डाउन के दौरान लोगों  को घरों से निकलने  की भी मनाही थी।

कोरोना वायरस का संक्रमण अभी तक खत्म नहीं हुआ है और यह एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में तेजी से फैलता है। यही कारण था कि दिल्ली में कोरोना वायरस ने तेजी से अपने पैर पसारे थे। दिल्ली सरकार ने लोगों की इन्हीं परेशानियों को देखते हुए काफी विचार और विमर्श के बाद Mukhya Mantri Ghar Ghar Ration Yojana 2021 को शुरू करने की मंजूरी दी है।  

इस योजना के लागू हो जाने के बाद राशन प्राप्त करने के लिए  राशन वितरण प्रणाली की दुकानों के समक्ष घंटों लाइन में खड़े होने की आवश्यकता नहीं रहेगी।  लाभार्थियों को उनके घर पर ही गेहूं की बजाए आटा, चावल व चीनी पैकेट्स में पहुंचाई जाएगी। Mukhya Mantri Ghar Ghar Ration Yojana का मुख्य उद्देश्य सस्ती दर पर राशन प्राप्त करने के लिए गरीबों को अनावश्यक रूप से हो रहे समय को कम करना है। इसके साथ ही राशन व्यवस्था में हो रहे भ्रष्टाचार पर  लगाम लगाना भी इस योजना का मुख्य उद्देश्य है। 

TPDDL New Connection- दिल्ली बिजली कनेक्शन ऑनलाइन आवेदन कैसे करे?

Mukhya Mantri Ghar Ghar Ration Yojana का लाभ

  • योजना के लागू हो जाने से लाभार्थियों को राशन की दुकानों के सामने लंबी-लंबी कतारों में खड़े होने की आवश्यकता नहीं रहेगी।
  • Mukhya Mantri Ghar Ghar Ration Yojana के अंतर्गत दिल्ली सरकार द्वारा बिना किसी मिलावट के गुणवत्तापूर्ण राशन सामग्री लोगों तक पहुंचाई जाएगी।
  • इस योजना के लागू होने से राशन व्यवस्था में पर्याप्त  भ्रष्टाचार पर अंकुश लगेगा।
  • MMGGRY योजना के लागू होने से राशन माफियाओं पर अंकुश लगेगा। 
  • Mukhya Mantri Ghar Ghar Ration Yojana2021 के अंतर्गत लाभार्थियों को गेहूं की बजाए पिसा हुआ गेहूं का आटा, चावल व चीनी पैकेजिंग में उपलब्ध करवाया जाएगा जिस की गुणवत्ता उच्च क्वालिटी की होगी।
  • राशन व्यवस्था में लाभार्थी की पहचान सुनिश्चित करने के लिए बायोमेट्रिक पहचान की जाएगी जिससे गलत लोगों को राशन वितरित करने की प्रथा खत्म होगी।
  • वन नेशन वन राशन कार्ड योजना को भी इस योजना के  अंदर समाहित किया जाएगा जिसके कारण  दूसरे राज्यों के प्रवासी नागरिकों को भी दिल्ली में राशन कार्ड प्राप्त करने का विकल्प उपलब्ध कराया जाएगा। 

MMGGRY-2021  अहर्ता  शर्तें व आवश्यक दस्तावेज

Mukhya Mantri Ghar Ghar Ration Yojana 2021 का लाभ प्राप्त करने के लिए लाभार्थी के पास निम्नलिखित योग्यताएं में आवश्यक दस्तावेज होने आवश्यक हैं।

  • आवेदक भारत का नागरिक होना चाहिए।
  • आवेदक दिल्ली का स्थाई निवासी होना चाहिए।
  • आवेदनकर्ता  भारतीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम   के अंतर्गत आता हो अर्थात वह समाज के गरीब वर्ग से जुड़ा हुआ हो।
  • आवेदक के पास आधार कार्ड होना चाहिए।
  • आवेदक का स्थाई प्रमाण पत्र। 
  • राशन कार्ड।
  • राजपत्रित अधिकारी द्वारा परिवार का सत्यापित विवरण।

मुख्यमंत्री घर घर राशन योजना 2021 की आवेदन प्रक्रिया

दिल्ली सरकार द्वारा शुरू की गई Mukhya Mantri Ghar Ghar Ration Yojana एक वैकल्पिक व्यवस्था है जिसके अंतर्गत राशन कार्ड लाभार्थियों को उनके द्वार पर राशन का वितरण किया जाएगा। इस योजना का लाभ उठाने के लिए लाभार्थी को दिल्ली घर का राशन योजना 2021 के लिए आवेदन करने की आवश्यकता होगी। MMGGRY योजना के अंतर्गत आवेदन करने के लिए लाभार्थी को अपने नजदीकी राशन  डीलर से संपर्क करना होगा और आवेदन के संबंध में राज्य सरकार द्वारा जारी किए गए दिशा-निर्देशों से संबंधित जानकारी प्राप्त करनी होगी। 

राज्य सरकार द्वारा योजना के लिए निर्धारित माध्यम से आवेदन करने के बाद सरकार द्वारा योजना में नामित सभी लाभार्थियों की सूची जारी करेगी। राज्य सरकार द्वारा जारी की गई सूची में अगर आपका नाम सूचीबद्ध है तो मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के कथन के अनुसार अगले छह सात महीनों में राशन होम डिलीवरी की सुविधा आपके घर तक होगी। दिल्ली सरकार ने Mukhya Mantri Ghar Ghar Ration Yojana के लिए अभी तक किसी प्रकार की वेब पोर्टल की स्थापना नहीं की है और ना ही इस योजना के आवेदन के लिए ऑनलाइन सुविधा प्रदान की है। 

यह लेख अब तक पब्लिक डोमेन में उपलब्ध सूचनाओं के आधार पर तैयार किया गया है। अगर निकट भविष्य में मुख्यमंत्री घर-घर राशन योजना के संबंध में अधिक जानकारी/ सूचनाएं प्राप्त होंगी तो उन्हें इस लेख में सूचीबद्ध किया जाएगा। 

[BRPL Bill Payment] BSES Rajdhani New Connection Apply Online 

मुख्यमंत्री घर घर राशन योजना 2021 पर केंद्र की आपत्ति

दिल्ली सरकार द्वारा दिल्ली में राशन को डोर स्टेप डिलीवरी के अंतर्गत लाने के लिए शुरू की गई मुख्यमंत्री घर-घर राशन योजना (Mukhya Mantri Ghar Ghar Ration Yojana)  पर केंद्र सरकार ने आपत्ति की है।योजना के संबंध में केंद्र सरकार का साफ-साफ कहना है कि भारतीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम 2013 के अंतर्गत दी जाने वाली राशन सामग्री को  अधिनियम के नियमों अनुसार कोई भी राज्य सरकार अपने किसी विशेष नाम से योजना शुरू कर वितरित नहीं कर सकती है।

केंद्र सरकार का कहना है कि दिल्ली सरकार अगर मुख्यमंत्री घर-घर राशन योजना के नाम से गरीब लोगों को राशन प्रदान करना चाहती है तो वह अवश्य करें लेकिन केंद्र सरकार द्वारा  खाद्य सुरक्षा अधिनियम 2013 के अंतर्गत उपलब्ध कराई गई राशन सामग्री को  इस योजना के अंतर्गत वितरित नहीं किया जा सकता।  

इस संबंध में केंद्र सरकार ने राज्य सरकार को एक चिट्ठी भेजी है जिसमें केंद्र सरकार का साफ कहना है कि  योजना में मुख्यमंत्री नाम के सम्मिलित होने से लोगों को यह लगेगा कि इस योजना के अंतर्गत उपलब्ध कराया गया राशन राज्य सरकार दे रही है जबकि हकीकत यह है कि यह राशन केंद्र सरकार उपलब्ध करा रही है।

दिल्ली  के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ने केंद्र सरकार से प्राप्त हुई चिट्ठी के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया  कि दिल्ली सरकार इस योजना का क्रेडिट नहीं लेना चाहती लेकिन फिर भी अगर केंद्र सरकार को  योजना के नाम में मुख्यमंत्री शब्द से आपत्ति है तो दिल्ली सरकार इस योजना को बिना किसी नाम के जारी रखेगी।

Mukhya Mantri Ghar Ghar Ration Yojana FAQs

Q.-1.Mukhya Mantri Ghar Ghar Ration Yojana की घोषणा कब की गई थी और यह योजना कब तक क्रियान्वित हो जाएगी ?

Ans: –  मुख्यमंत्री घर-घर राशन योजना की घोषणा 21 जुलाई 2020 को दिल्ली सरकार के द्वारा की गई थी।   मुख्यमंत्री श्री अरविंद केजरीवाल ने घोषणा के समय  मीडिया कर्मियों को सूचित किया था कि इस योजना को  पूर्णतया लागू के लिए 6 से 7 महीने लगेंगे।

Q.-2.Mukhya Mantri Ghar Ghar Ration Yojana कब शुरू की जाएगी ?

Ans: –  दिल्ली सरकार के अनुसार मुख्यमंत्री घर-घर राशन योजना की शुरुआत मुख्यमंत्री श्री अरविंद केजरीवाल द्वारा 25 मार्च 2021 को दिल्ली के सीमापुरी इलाके के 100 चुनिंदा घरों तक राशन सामग्री पहुंचाकर  की जाएगी

Q.-3.मुख्यमंत्री घर-घर राशन योजना के अंतर्गत डोर स्टेप डिलीवरी में क्या-क्या उपलब्ध कराया जाएगा ?

Ans: –  दिल्ली घर का राशन योजना के अंतर्गत राज्य सरकार द्वारा लाभार्थियों को  गुणवत्ता मानकों को पूरा करते हुए गेहूं का आटा, चावल तथा चीनी  उपलब्ध कराई जाएगी।

Q.-4. क्या MMGGRY केवल दिल्ली में ही लागू की जाएगी या इसका लाभ दिल्ली-एनसीआर में रहने वाले लोग भी उठा सकते हैं ?

Ans: –   Mukhya Mantri Ghar Ghar Ration Yojana वर्तमान में केवल दिल्ली में रहने वाले लाभार्थियों के लिए ही तैयार की गई है। दिल्ली एनसीआर में रहने वाले लाभार्थियों को इस योजना में शामिल नहीं किया गया है।

Q.-5.क्या मुख्यमंत्री घर-घर राशन योजना  का लाभ वन नेशन वन राशन कार्ड के लाभार्थी प्राप्त कर सकते हैं?

Ans: –   दिल्ली Mukhya Mantri Ghar Ghar Ration Yojana की घोषणा के समय मुख्यमंत्री श्री अरविंद केजरीवाल ने मीडिया से बात करते हुए बताया था कि इस योजना के लागू करने के कुछ ही दिन बाद वन नेशन वन राशन कार्ड योजना को भी दिल्ली में लागू कर दिया जाएगा। वन नेशन वन राशन कार्ड योजना लागू करने के बाद  वन नेशन वन राशन कार्ड योजना के लाभार्थी भी इस योजना का लाभ प्राप्त कर सकते हैं।

Also Read: – [BYPL Bill Payment] BSES Yamuna Bill Payment Online 

Spread the love

Leave a Reply

MMGGRY-Mukhya Mantri Ghar Ghar Ration Yojana