Meri Fasal Mera Byora Haryana Online Registration : fasal.haryana.gov.in

17th December 2020 by Guru R P

Meri Fasal Mera Byora Haryana | Meri Fasal Mera Byora Portal | मेरी फसल मेरा ब्यौरा हरियाणा | Meri Fasal Mera Byora  Registration | Haryana Meri Fasal Mera Byora Form |  Meri Fasal Mera Byora Online Registration Haryana |Meri Fasal Mera Byora  Registration Check

भारत एक कृषि प्रधान देश है। भारत सरकार के साथ-साथ विभिन्न राज्य की सरकारें भी किसानों की उन्नति के लिए किसानों से संबंधित है नई नई योजनाएं लाती रहती हैं। भारत के मुख्य कृषि प्रधान राज्यों में हरियाणा का प्रमुख स्थान है।हरियाणा राज्य के किसानों की उन्नति के लिए राज्य सरकार  Meri Fasal Mera Byora Haryana Yojana लेकर आई है। आज आप लोगों को मैं इस लेख के माध्यम से हरियाणा सरकार द्वारा प्रारंभ की गई Meri Fasal Mera Byora Haryana Yojana से संबंधित तमाम महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान करूंगा।अगर आप हरियाणा के निवासी हैं और किसान परिवार से संबंध रखते हैं तो Meri Fasal Mera Byora Haryana Yojana से संबंधित तमाम जरूरी जानकारियां जैसे कि Haryana Meri Fasal Mera Byora Yojana क्या है?, इसका लाभ क्या क्या है, लाने का प्रमुख उद्देश्य वह विशेषताएं,पात्रता मानदंड व आवेदन करने कीप्रक्रिया आदि इस लेख को पढ़कर प्राप्त होंगी। अगर आप Meri Fasal Mera Byora Haryana Yojana के बारे में संपूर्ण जानकारी चाहते हैं तो मेरे द्वारा लिखे गए इस लेख को अंतर अवश्य पढ़ें।

इस लेख के माध्यम से मैंने आप लोगों के लिए हरियाणा मेरी फसल मेरा ब्यौरा योजना का गहराई से अध्ययन कर इस योजना से संबंधित संपूर्ण आवश्यक जानकारी आप लोगों के लिए तैयार की है।

Table of Contents

Meri Fasal Mera Byora Haryana Yojana

हरियाणा सरकार Meri Fasal Mera Byora Haryana योजना राज्य के किसानों को ओला वृष्टि, अतिवृष्टि या अन्य प्राकृतिक आपदाओं में नष्ट हुई फसल की भरपाई के लिए राज्य सरकार द्वारा चलाई गई बीमा योजनाओं का संपूर्ण लाभ प्रदान करने के लिए तैयार की गई है। इस योजना की शुरुआत 15 अगस्त 2019 को हरियाणा के तत्कालीन मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल खट्टर जी के द्वारा किया गया था।इस योजना का उपयोग कर हरियाणा के किसान अपनी संपूर्ण फसल का ब्यौरा ऑनलाइन दर्ज कर सकते हैं।

Meri Fasal Mera Byora Haryana Portal

राज्य सरकार ने Meri Fasal Mera Byora Haryana योजना के क्रियान्वयन के लिए मेरी फसल मेरा ब्योरा पोर्टल की स्थापना भी की है। Meri Fasal Mera Byora Haryana Portal के माध्यम से सरकार यह सुनिश्चित करती है कि राज्य सरकार द्वारा प्रदान किया गया बीमा कवर वह प्राकृतिक आपदाओं के कारण दिया गया मुआवजा किसानों तक बिना किसी रूकावट के पहुंच सके। अब राज्य के किसी भी किसान को मेरी फसल मेरा ब्योरा  हरियाणा योजना के अंतर्गत आवेदन करवाने के लिए किसी भी कार्यालय के बार-बार चक्कर काटने की आवश्यकता नहीं है। इसके लिए बस केवल आपको Meri Fasal Mera Byora Haryana योजना के ऑफिशियल पोर्टल पर जाने की आवश्यकता है। राज्य सरकार का इस पोर्टल को शुरू करने का मुख्य उद्देश्य हरियाणा के किसानों को उनसे संबंधित तमाम सरकारी सुविधाएं व सेवाएं एक ही जगह परउपलब्ध करवाना है।

eGRAS Haryana Portal 

Meri Fasal Mera Byora Haryana Registration 

हरियाणा सरकार ने तत्कालीन कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री जे पी दलाल की उपस्थिति में कुछ दिनो पहले  एक बैठक का आयोजन किया गया था। इस बैठक की अध्यक्षता हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल खट्टर द्वारा की गई थी। इस बैठक का मुख्य उद्देश्य रवि व खरीफ दोनों सीजन की फसल के सरकारी खरीद को लेकर सरकार द्वारा की जाने वाली तमाम तैयारियों की समीक्षा करना था। इस बैठक के बाद राज्य सरकार ने एक प्रेस विज्ञप्ति जारी कर बतलाया कि Meri Fasal Mera Byora Haryana योजना से संबंधित आवेदन प्रक्रिया मेरी फसल मेरा ब्योरा पोर्टल पर कुछ ही दिनों में शुरू हो ।इस बैठक की निम्नलिखित मुख्य बातें हैं-

  • राज्य सरकार ने फसल व कृषि से संबंधित है, तमाम सरकारी विभागों एवं फसल खरीद एजेंसियों को साफ-साफ निर्देश दिए कि किसानों को मंडियों में अपनी फसल बेचते समय किसी प्रकार की परेशानी या असुविधा का सामना ना करना पड़े। किसान अनाज मंडियों में निर्धारित समय पर आकर अपना अनाज आसानी से बिक्री कर सके।
  • बैठक में फैसला लिया गया कि राज्य  सरकार 80 लाख मैट्रिक टन गेहूं ₹1975 रुपए प्रति क्विंटल के एमएसपी पर खरीद करेगी।
  • सरकार आठ लाख मैट्रिक टन सरसों ₹4650 प्रति क्विंटल एमएसपी पर खरीदेगी।
  • सरकार 11 हजार मैट्रिक टन चना₹5100 प्रति क्विंटल की एमएसपी पर तथा ₹5885 प्रति क्विंटल की एमएसपी पर17 हजार मैट्रिक टन सूरज मुखी खरीदेगी।
  • इस बैठक में सरकार ने गेहूं की खरीद के लिए 389 तथा सरसों के लिए 71 मंडियों की स्थापना करने का फैसला भी लिया।
  • सरकार चने की खरीद के लिए11 मंडियों तथा सूरजमुखी की खरीद के लिए 8 मंडियों की स्थापना करेगी।

Meri Fasal Mera Byora Haryana  कॉल सेंटर की स्थापना

राज्य सरकार ने इस बैठक के बाद यह भी घोषणा की कि Meri Fasal Mera Byora Haryana योजना के तहत किसानों की मदद करने के लिए कॉल सेंटर की स्थापना की जाएगी। अर्थात किसानों के लिए अलग से एक कॉल सेंटर की स्थापना की जाएगी। कॉल सेंटर के माध्यम से राज्य के किसान फसल को लेकर किसी भी प्रकार की समस्या से संबंधित शिकायत दर्ज करवा पाएंगे। राज्य सरकार यह सुनिश्चित करेगी की किसानों द्वारा दर्ज की करवाई गई शिकायतों का जल्दी से जल्दी समाधान हो सके।

Meri Fasal Mera Byora Haryana योजना के अंतर्गत एक ई खरीद सॉफ्टवेयर की भी स्थापना करेगी, जिसके साथ पेमेंट भुगतान मॉडल को भी जोड़ा जाएगा। अर्थात भुगतान मॉडल भी इस सॉफ्टवेयर का हिस्सा होगा। जब भी किसान को Meri Fasal Mera Byora Haryana योजना के तहत किसी भी प्रकार का भुगतान किया जाएगा तो किसान के पास भुगतान के संबंध में SMS के माध्यम से सूचना भिजवाई जाएगी। इसके लिए राज्य सरकार ने विभिन्न बैंकों सेसंपर्क कर इस योजना में शामिल किया है। यदि किसानों को भुगतान से संबंधित किसी भी प्रकार की समस्या या शिकायत है तो वह राज्य केखाद्य नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले विभाग द्वारा स्थापित कॉल सेंटर से संपर्क कर सकता है। किसानों को उनके भुगतान के संबंध में समस्त जानकारियां इस कॉल सेंटर की माध्यम से उपलब्ध करवाई जाएंगी।

Mera Parivar Pehchan Patra Portal 

Highlights of Meri Fasal Mera Byora Haryana 2020

Name of Scheme meri fasal Mera byora Haryana
launched by Shri Manohar Lal Khattar chief minister of Haryana
concerned department किसान और कृषि किसान मंत्रालय
Purpose of a scheme registration of farmer and their lands
Beneficiary of a scheme only farmers of Haryana state
mode of application process online
official website https://www.fasal.haryana.gov.in/

Meri Fasal Mera Byora Haryana Registration 

राज्य सरकार द्वारा दिनांक 7 अप्रैल 2020 को सायं 5:00 से मेरी फसल मेरा ब्योरा पोर्टल को पुनःपंजीकरण हेतु खोल दिया गया है सूत्रों के अनुसार मेरी फसल मेरा ब्योरा पोर्टल पर अभी तक 40% किसान ऐसे हैं जिनके द्वारा फसल  ई-खरीद कूपन पाने के लिए पंजीकरण नहीं कराया। अभी तक केवल राज्य के केवल 60% किसानों द्वारा पंजीकरण कराया गया है।  उप मुख्यमंत्री द्वारा यह भी बताया गया कि इस बार कोरोना वायरस संक्रमण के चलते फसल खरीद की प्रक्रिया माह जून 2020 तक चलेगी तथा केंद्र सरकार द्वारा जारी दिशा-निर्देश के का पालन करते हुए ही राज्य सरकार किसानों को प्रोत्साहन राशि दी जाएगी|

Meri Fasal Mera Byora Haryana Portal 2020

राज्य सरकार द्वाराइस पोर्टल के माध्यम से कृषि और किसान कल्याण से जुड़े तमाम विभागों को एक ही मंच पर लाया गया है। राज्य सरकार द्वारा राजस्व, खाद्य नागरिक आपूर्ति और उपभोक्ता कार्य विभाग के साथ-साथ विज्ञान और प्रौद्योगिकी से जुड़े विभागों को भी इस मंच पर लाया गया है।

इस ऑनलाइन पोर्टल के माध्यम से किसानों को फसल की बुवाई और कटाई के मौसम के साथ-साथ मंडी से संबंधित जानकारियां real time बुवाई, कटाई के मौसम और मंडी से संबंधित जानकारी वास्तविक समय के आधार (Providing information related to sowing, harvesting season and market on real time basis to farmers ) पर उपलब्ध कराई जाएंगी। Meri Fasal Mera Byora Haryana Portal 2020 का प्रयोग कर राज्य के किसान अपनी फसलों का विवरण का ऑनलाइन पंजीकरण कर सकते हैं।

Haryana Meri Fasal Mera Byora Registration

Meri Fasal Mera Byora Haryana योजना के माध्यम से किसान ना केवल अपना वअपनी फसल का पंजीकरण करवा सकते हैं बल्कि अपने खेत का ब्यौरा भी ऑनलाइन दर्ज कर सकते हैं।राज्य का जो भी किसान इस योजना के अंतर्गत अपनाया अपनी फसल का पंजीकरण करवाना चाहता है वह है मेरी फसल मेरा ब्यौरा पोर्टल की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर आसानी से पंजीकरण करवा सकता है। Haryana Meri Fasal Mera Byora Yojana 2020 के अंतर्गत बोई जाने वाली फसलों की जानकारी प्राप्त करने तथा विभिन्न सरकारी योजनाओं का लाभ तय मानदंडों के आधार पर पात्र किसानों को प्रदान किया जायेगा।

 मेरी फसल मेरा ब्यौरा हरियाणा पोर्टल के माध्यम से सरकार सुनिश्चित करेगी कि किसानों को उनकी फसल का उचित मूल्य मिले और उनकी बेहतरी का विकल्प खुले। मेरी फसल मेरा ब्यौरा ऑनलाइन पोर्टल के माध्यम से किसानों को राज्य सरकार की कई महत्वपूर्ण किसान संबंधी योजनाओं का लाभ सीधे (Farmers will get the benefit of many schemes of Haryana government directly.) मिल सकेगा।

Online DHBVN Bill Payment 

Meri Fasal Mera Byora Haryana योजना का उद्देश्य

किसी भी योजना के क्रियान्वयन के पीछे  एक उद्देश्य होता है। हरियाणा सरकार द्वारा शुरू की गई , Meri Fasal Mera Byora Haryana योजना के भी कुछ उद्देश्य हैं जो इस प्रकार हैं

  • राज्य के किसानों के लिए तमाम सरकारी सुविधाओं व सेवाओं को एक ही एक ही जगह पर उपलब्ध कराना है।
  • किसानों फसल से जुड़ी तमाम समस्याओं वह शिकायतों का जल्दी से जल्दी निवारण करना।
  • किसानों को मेरी फसल मेरा ब्यौरा ऑनलाइन पोर्टल पर खाद्य,बीज,ऋण एवं कृषि उपकरणों की सब्सिडी समय पर उपलब्ध करवाना।
  • इस योजना के माध्यम से किसानों के लिए फसल की बिजाई-कटाई का समय और मंडी संबंधित जानकारी उपलब्ध कराना।
  • अतिवृष्टि या अति ओलावृष्टि तथा अन्य प्राकृतिक आपदा या विपदा के दौरान सही समय पर किसान को मुआवजा देखकर सहायता करना।

Meri Fasal Mera Byora Haryana 2020 के लाभ

  • विभिन्न प्राकृतिक आपदाओं में होने वाली फसल की क्षति पूर्ति के लिए किसानों को मुआवजा प्रदान किया जाता है।
  • इस योजना के माध्यम से हरियाणा के किसानों को एक ही स्थान पर सारी सरकारी सुविधाएं उपलब्ध करवाकर उनकी समस्याओं का निवारण किया जा रहा है।
  • इस योजना के माध्यम से किसानो को विभिन्न योजनाओं के तहत वित्तीय सहायता प्रदान करना।
  • राज्य के किसानों को समय पर खाद्य,बीज,ऋण एवं कृषि उपकरणों की सब्सिडी उपलब्ध करवाना।
  • किसानों को कृषि संबंधित सभी जानकारियाँ समय-समय पर उपलब्ध करना।
  •  किसानों को विभिन्न फसलों की बिजाई-कटाई के सही समय के साथ साथ मंडी से संबंधित जानकारियां उपलब्ध करवाना।
  • राज्य के किसानो को   मेरी फसल मेरा ब्यौरा पोर्टल पर उन तमाम सरकारी सेवाओं तथा योजनाओ के बारे में जानकारी मिलेगी, जिन्हें राज्य सरकार ने उनके लिए शुरू किया है।
  • राज्य सरकार ने राज्य स्तरीय फसल ई  सूचना नामक पोर्टल की स्थापना की है जिसके माध्यम से किसान बोई जाने वाली विभिन्न फसलों की जानकारी प्रदान की जाएगी।
  • फसलई सूचना पोर्टल के माध्यम से विभिन्न सरकारी योजनाओं का लाभ पात्र किसानों को प्रदान किया जाएगा।
  • सरकार द्वारा नियुक्त वीएलई सभी किसानों की फसलों का ब्यौरा ऑनलाइन दर्ज करवाएंगे।
  • राज्य सरकार द्वारा वीएलई को इस कार्य के लिए सीधे उसके खाते में भुगतान किया जाएगा।

Meri Fasal Mera Byora Yojana 2020 के  लिए आवश्यक दस्तावेज़ 

  • आवेदक हरियाणा का स्थायी निवासी हो।
  • आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • पहचान पत्र
  • आवेदक का मोबाइल नंबर
  • ज़मीन से संबंधित कागजात
  • हाल ही में खींची हुई पास पोर्ट साइज फोटोग्राफ।

Online UHBVN Bill Payment 

मेरी फसल मेरी योजना हरियाणा किसान पंजीकरण के लिए दिशा निर्देश

  • 12 अंको की आधार कार्ड संख्या को संबंधित कॉलम में भरें।
  • मोबाइल संख्या10 अंक का होना चाहिए। इसमें कंट्री कोड का प्रयोग ना करें।
  • जो मोबाइल नंबर आपके द्वारा उपलब्ध कराया जाएगा उसी पर फसल पंजीकरण संबंधित जानकारी की सूचना एस.एम.एस द्वारा भेजी जाएगी।
  • किसान निम्नलिखित दस्तावेज पंजीकरण करने के समय अपने पास रखें
  • आधारकार्ड
  • जमीन की जानकारी के लिए नक़ल की कॉपी /फरद की कॉपी सेअपना मुर्रबा संख्या खसरा संख्या देख कर भरें|
  • फसल के नाम /किस्में /बुआई का समय
  • बैंक की पास बुक की कॉपी

Meri Fasal Mera Byora Haryana  Online Registration कैसे करे?

अगर आप हरियाणा राज्य के नागरिक हैं और राज्य सरकार द्वारा चलाई जा रही Meri Fasal Mera Byora Haryana Yojana 2020 केलिएआवेदनकरनाचाहतेहै,तो नीचे दिए गए स्टेप्स का पालन करें।

  • सर्वप्रथम Meri Fasal Mera Byora Haryana योजना की Official Website  ।आपके सामने ऑफिशियल वेबसाइट का होम पेज खुलेगा।
  • अब पंजीकरण के ऑप्शन पर क्लिक करें। पंजीकरण पर क्लिक करते ही आपके सामने किसान या काश्तकार पंजीकरण करने के लिए अपना मोबाइल संख्या सर्च बॉक्स में भरे का कॉलम दिखाई देगा।
  • पंजीकरण फॉर्म में आपके सामने चार चरण होंगे,जिसमे पहला चरण किसान   प्रमाणीकरण का होता है जिसमें किसान या काश्तकार को अपनी जमीन से संबंधित जानकारी भर नहीं होती है।
  •  उसके बाद आपके सामने फसल का विवरण के नाम से दूसरा चरण आएगा जिसमे आपको अपनी फसल से संबंधित जानकारी भरनी होती है।
  • इसके बाद किसान विवरण के रूप में तीसरा चरण आता है जिसमें किसान को अपने बारे में सूचना भरनी होती है।
  • इसके बाद अंतिम और चौथा चरण मंडी /आढ़ती का विवरण का होता है जिसमें मंडी और आरती के विवरण की जानकारी देनी होती है।
  • सभी जानकारी भरने के बाद आपको आखिर में सबमिट के बटन पर क्लिक करना होगा।इस तरह आपका पंजीकरण पूरा हो जायेगा
  • दिए गए इस कॉलम में अपना मोबाइल नंबर भरें और नीचे दिए गए कैप्चा को भरकर जारी रखें के बटन पर क्लिक करें।
  • जारी रखें के बटन पर क्लिक करते ही आपसे आपका मोबाइल नंबर,पर एक ओटीपी आएगा।
  • अब आपको “कृपया ओटीपी भरे” का ऑप्शन दिखाई देगा जिसके कॉलम में आपके मोबाइल नंबर पर प्राप्त हुए वन टाइम पासवर्ड को भरें और जारी रखें के बटन पर क्लिक करें।
  • अब एक नया पेज खुल जाएगा। नए पेज में जिला चुने के ड्रॉपडाउन बॉक्स पर क्लिक करके जिले की सूची में से अपने जिले का चुनाव करें।
  • अब तहसील चुने के ड्रॉप डाउन बॉक्स पर क्लिक करके अपनी तहसील का चुनाव करें।
  • इसके बाद गांव या शहर चुने के ड्रॉप डाउन बॉक्स से अपने गांव या शहर का चयन करें।
  • आपको अब दो ऑप्शन जमाबंदी में मालिक का हिंदी नाम या मुर्बा संख्या मिलेंगी।आप इन दोनों में से किसी एक ऑप्शन का चुनाव कर सकते हैं।
  • अगर आपके पास मुर्बा संख्या है तो उसे डालकर सर्च के ऑप्शन पर क्लिक करें आपके सामने तमाम विवरण आ जाएगा।
  • अगर आपके पास मुर्बा संख्या नहीं है तो जमाबंदी में मालिक का हिंदी नाम के ऑप्शन का चयन करें और मालिक का नाम नीचे दिए गए खोजें के कॉलम में भरें और सर्च के बटन पर क्लिक करें।
  • जैसे ही आप क्लिक करते हैं मालिक की जमीन का पूरा विवरण आपकी कंप्यूटर स्क्रीन पर आ जाएगा।
  • इस विवरण में मालिक की तमाम भूमिका विवरण होता है जिसमें से आपको उस भूमि का चुनाव करना है जिसके लिए पंजीकरण करना चाहते हैं।
  • उपरोक्त पेज में आपको भूमि विवरण जोड़ें और पिछला भूमि विवरण के दो ऑप्शन दिखाई देंगे।
  • अगर पिछला भूमि विवरण में फसल की डिटेल जोड़ना चाहते हैं तो तो पिछला भूमि विवरण के बटन पर क्लिक करें क्लिक करते ही आप की भूमि की डिटेल आपके सामने आ जाएगी जहां से आप फसल को जोड़ सकते हैं।
  • भूमि का नया भाग जोड़ने के लिए भूमि विवरण जोड़ें पर क्लिक करें।
  • जैसे ही भूमि के किसी हिस्से को आप सेलेक्ट करते हैं तो नीचे खसरा संख्या की तालिका आ जाती है जिसमें मुर्गा संख्या खसरा संख्या खेवट संख्या वह खतौनी संख्या दी हुई होती है।
  • अब इस तालिका में जमीन के जिस भाग पर फसल का विवरण जोड़ना चाहते हैं उस पर क्लिक करें।
  • क्लिक करते ही मालिक खसरा खतौनी रकबा काश्तकार की डिटेल आपके सामने आ जाएगी।
  • अब फसल भरे के बटन पर क्लिक करें और अपनी फसल की जानकारी दिए गए फॉर्मेट में भरें और ऐड के बटन पर क्लिक करें आप की फसल की जानकारी दर्ज हो जाएगी।
  • अगर आपको दूसरी जमीन की फसल का विवरण दर्ज करना है तो तालिका में से उस भूमि को चुने और फसल भरे के ऑप्शन पर क्लिक कर पूर्व के अनुसार आगे की प्रोसेस पूरी करते हुए ऐड के बटन पर क्लिक करें।
  • इसके बाद नीचे दिए गए दर्ज करें कि ऑप्शन पर क्लिक करें।
  • अगर फसल का विवरण भरने में कोई चूक हो गई हो तो इसे डिलीट के आइकन पर क्लिक कर डिलीट कर सकते हैं।

Online UHBVN New Connection 

Meri Fasal Mera Byora Haryana मंडी सचिव लोगिन करने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम मेरी फसल, मेरा ब्यौरा, हरियाणा Meri Fasal Mera Byora Haryana की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं आपके सामने ऑफिशियल वेबसाइट का होम पेज खुल जाएगा।
  • होम पेज पर दिए गए विभिन्न लिंक्स में से मंडी सचिव लॉगिन करें के लिंक पर क्लिक करें।
  • इसके बाद एक नया पेज खुलेगा जिसमें जिला चुने के ड्रॉपडाउन बॉक्स से अपने जिले का चुनाव करें।
  • मंडी केंद्र के ड्रॉपडाउन बॉक्स से अपनी मंडी का चुनाव करें।
  • इसके बाद मार्केट कमेटी सचिव मोबाइल संख्या भरे की ड्रॉप डाउन बॉक्स में अपना मोबाइल नंबर सेलेक्ट कर नीचे दिए गए ऑप्शन दर्ज करें के बटनपर क्लिक करें।
  • अगर आप मंडी सचिव हैं तो इस प्रकार मेरी फसल मेरा ब्यौरा पोर्टल पर लॉगइन कर सकते हैं।

मेरी फसल मेरी योजना हरियाणा आवेदन फॉर्म को प्रिंट कैसे करे?

अगर आप हरियाणा राज्य के निवासी हैं और आपने Meri Fasal Mera Byora Haryana योजना के लिए आवेदन किया है और आवेदन फॉर्म को प्रिंट करना चाहते है तो नीचे बतलाई गई स्टेप्स को फॉलो करें।

  • सबसे पहले मेरी फसल मेरा ब्योरा योजना की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाएं। आपके सामने होम पेज खुल जाएगा।
  • होम पेज पर दिए गए विभिन्न लिंक्स में से पंजीकरण करे के लिंक पर क्लिक करें।
  • क्लिक करते ही आपके सामने एक नया पेज खुल जाएगा।
  • इस पेज पर आपको ऊपर right side  में Print Form का विकल्प दिखाई देगा। इस लिंक पर क्लिक करें।
  • Print form विकल्प पर क्लिक करने के बाद आपके सामने कंप्यूटर स्क्रीन पर अगला पेज खुल जायेगा।
  • इसके बाद इस पेज पर मानी गई जानकारियां जैसे नाम,मोबाइल नंबर, बैंक खाता संख्या आदि को सही सही भरें।
  • सभी जानकारी भरने के बाद प्रिंट करे के बटन पर क्लिक करें।
  • इसके बाद आपके सामने एप्लीकेशन फॉर्म प्रिंट आउट फॉर्मेट में खुल जाएगा। यहां से आप आवेदन फॉर्म प्रिंट कर सकते है।

Meri Fasal Mera Byora Haryana सीमांत किसान पंजीकरण ( केवल धान के लिए )

  • सबसे पहले Meri Fasal Mera Byora Haryana योजना की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाएं।
  • आपके सामने ऑफिशियल वेबसाइट का होम पेज खुल जाएगा।
  • होम पेज पर सीमांत किसान पंजीकरण (केवल धान के लिए) का लिंक या बटन मिलेगा। किसान पंजीकरण के इस लिंक पर क्लिक करें।
  • ध्यान रहे सीमांत किसान पंजीकरण केवल धान की फसल के लिए है।
  • सीमांत किसान पंजीकरण के लिंक पर क्लिक करते ही आपके सामने एक नया पेज खुल जाएगा।
  • इस पेज पर अपना मोबाइल नंबर भरें और नीचे दिए गए कैप्चा कोड को भरें।
  • अब नीचे दिए गए जारी रखें के बटन पर क्लिक करें।
  • क्लिक करते ही आपके सामने एक एप्लीकेशन फॉर्म खुल जाएगा।
  • नए पेज में आए एप्लीकेशन फॉर्म में आपसे काफी जानकारियां मांगी जाएंगी जिनको सही सही इस एप्लीकेशन फॉर्म में भरें और फार्म पूरा भरने के बाद सबमिट के बटन पर क्लिक करें।
  • सबमिट के बटन पर क्लिक करते ही आपकी पंजीकरण प्रोसेस कंप्लीट हो जाएगी।

India Ration Card 

मंडी में फसल लाने का अनुमानित सप्ताह कैसे चुने?

  • सबसे पहले Meri Fasal Mera Byora Haryana के  आधिकारिक पोर्टल पर जाएं। आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल जाएगा।
  • होम पेज पर आपको विभिन्न ऑप्शंस के बीच मंडी में फसल लाने का अनुमादित सप्ताह चुने का विकल्प दिखाई देगा।इस विकल्प पर क्लिक करें। इस विकल्प पर क्लिक करते ही आपके सामने एक नया पेज खुल जाएगा।
  • इस पेज पर किसान अपना मोबाइल संख्या सर्च बॉक्स में भरे का  कॉलम दिखाई देगा जिसमें अपना मोबाइल नंबर भरें।
  • इसके बाद नीचे दिए गए कैप्चा कोड को सही-सही भर कर जारी रखें के बटन पर क्लिक करें।
  • इसके बाद मंडी में फसल लाने का अनुमानित सप्ताह आ जायेगा।अब आप अपनी अनुमानित तिथि चुन सकते हैं।

Meri Fasal Mera Byora Haryana मंडी वार गेट पास सूची कैसे देखे?

  • सबसे पहले Meri Fasal Mera Byora Haryana योजना की ऑफिसियल वेबसाइटपर जाएं। आपके सामने ऑफिसियल वेबसाइट का होम पेज खुल जाएगा।
  • होम पेज पर आपको मंडी वार गेट पास सूची का ऑप्शन दिखाई देगा।अब मंडी मार्केट पास सूची के ऑप्शन पर क्लिक करें।
  • जैसे ही क्लिक करते हैं आपके सामने एक नया पेज खुल जाएगा।
  • इस पेज पर पूछी गयी डिस्ट्रिक्ट ,क्रॉप ,मंडी , डेट आदि की जानकारी का ड्रॉप डाउन बॉक्स से चयन करें।
  • सभी जानकारी भरने के बाद व्यू लिस्ट के बटन पर क्लिक करें।
  • इसके बाद आपके सामने मंडीवार गेट पास सूची नई पेज के रुप में खुलकर आ जाएगी।

मेरी फसल मेरी योजना हरियाणा बैंक का विवरण कैसे बदले?

  • सर्वप्रथम मेरी Meri Fasal Mera Byora Haryana योजना की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाएं।
  • आपके सामने पोर्टल का डैशबोर्ड खुल जाएगा। जहां पर आपको बैंक का विवरण बदले का विकल्प दिखाई देगा।बैंक का विवरण बदले के विकल्प पर क्लिक करें।
  • आपकी स्क्रीन पर एक नया पेज खुल जाएगा। नए पेज पर अपना मोबाइल नंबर भरें।
  • इसके बाद नीचे दिए गए कैप्चा कोड को भरें और जारी रखें के बटन पर क्लिक करें।
  • इसके बाद आप अपने बैंक का विवरण बदल सकते हैं।
  • ध्यान रहे यहां आपको अपना पहले से रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर ही भरना है।

मेरी फसल मेरी योजना हरियाणा गेट पास की तिथि कैसे बदलें?

  • सबसे पहले Meri Fasal Mera Byora Haryana योजना की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाएं। आपके सामने योजना के पोर्टल का होम पेज खुल जाएगा।
  • इस होम पेज पर आपको दिए गए विभिन्न ऑप्शंस में गेट पास की तिथि बदलें का विकल्प दिखाई देगा।
  • अब गेट पास की तिथि बदलें की विकल्प पर क्लिक करें। आपके सामने एक नया पेज खुल जाएगा।
  • इस पेज पर अपना रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर भरे तथा जारी रखें के बटन पर क्लिक करें।
  • यहां से आप गेट पास की तिथि बदल सकते हैं।

Meri Fasal Mera Byora Helpline Number

हरियाणा सरकार द्वारा Meri Fasal Mera Byora Haryana योजना से संबंधित समस्याओं वह शिकायतों के लिए राज्य के किसानो के लिए हेल्पलाइन नंबर भी शुरू किया है।राज्य के किसान इस हेल्पलाइन नंबर की सहायता से मेरी फसल मेरा ब्योरा योजना से जुडी सभी जानकारी प्राप्त कर सकते है। अगर किसी किसान को इस योजना से संबंधित परेशानी है तो उसे भी इस हेल्प नंबर के माध्यम से दूर किया जा सकता है।यह एक टोल फ्री नंबर है जिस पर फोन करने पर आपको किसी प्रकार का भुगतान नहीं करना पड़ता है।

  • Helpline Number – 18001802060
  • Toll-Free Number – 18001802117
  • ईमेल ID  – [email protected]

 

मेरी फसल मेरी योजना हरियाणा से सम्बंधित नई घोषणा

हाल ही में हरियाणा सरकार ने Meri Fasal Mera Byora Haryana केअंतर्गत हरियाणा के बाहर से हरियाणा में धान बिक्री करने के लिएआने वाले किसानों का Meri Fasal Mera Byora Haryana पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन खोल दिया है। अब Meri Fasal Mera Byora Haryana योजना के अंतर्गत अन्य राज्य के किसान भी अपनी धान की फसल को हरियाणा की मंडियों में बेच पाएंगे।खरीद सीजन में हरियाणा के भार से मंडियों में जितना भी धान अभी तक पहुंचा है उसकी खरीद लगभग हो चुकी है।

हाल ही में राज्य सरकार ने किसानों की समस्याओं को ध्यान में रखते हुए  पंजीकरण की तिथि को आगे बढ़ा दिया है।अब कोई भी किसान इस योजना का लाभ उठाने के लिए अपना पंजीकरण करवा सकता है और अपनी फसल को मंडियों में बिक्री कर सकता

मेरी फसल मेरा ब्यौरा नई अपडेट

इस योजना के अंतर्गत राज्य सरकार ने ऑनलाइन आवेदन करने की अंतिम तारीक की घोषणा कर दी है इस योजना के अंतर्गत ऑनलाइन आवेदन करने की अंतिम तारीख 7 सितम्बर 2020 तक तय कर दी गयी है।राज्य के जिन किसानो ने अभी तक इस योजना के अंतर्गत ऑनलाइन आवेदन नहीं किया है और वह इस योजना का लाभ पाने के इच्छुक है तो वह 7 सितम्बर 2020 तक इस योजना में अपना ऑनलाइन आवेदन कर सकते है।और राज्य सरकार द्वारा प्रदान की जा रही सुविधाओं का लाभ उठा सकते हैमेरी फसल मेरा ब्यौरा योजना के अंतर्गत अब तक राज्य के किसानों द्वारा लगभग 35 ,16 ,663. 44 एकड़ ज़मीन का पंजीकरण किया जा चुका है।

Also Read – Haryana Ration Card Online Apply 

Spread the love

This Post Has 2 Comments

Comments are closed.