[Ladli Laxmi Yojana] लाडली लक्ष्मी योजना मध्य प्रदेश 2021 ऑनलाइन पंजिकरण कैसे करे?

Ladli Laxmi Yojana MP | लाडली लक्ष्मी योजना एमपी | Ladli Laxmi Yojana in Hindi| Ladli Laxmi Yojana Name Search |Ladli Lakshmi Yojana| Ladli Laxmi Yojana Online Apply |Ladli Laxmi Yojana Form PDF 2021 | Ladli Laxmi Yojna 2021


1st March2021 by Guru R P


Ladli Laxmi Yojana MP : –  अक्सर देखा गया है कि भारतीय समाज परंपरा में पुरुषों को महिलाओं से अधिक महत्व दिया जाता है। जिसके कारण  प्रत्येक माता-पिता अपने परिवार में बालिका की जगह बालक का जन्म सुनिश्चित करने को प्राथमिकता देते हैं।  ग्रामीण समाज में ऐसी धारणा रही है कि लड़कियाँ केवल घर का कार्य करने के लिए पैदा होती हैं, जो बालिकाओं के आगे बढ़ने में सबसे बड़ा रोड़ा है।  पुरुष प्रधानता के कारण  जन्म से पहले ही बालिकाओं को गर्भ में मार लिया जाता है, जिससे देश में लिंगानुपात में  भारी कमी आई है।

मध्य प्रदेश राज्य अभी इससे अछूता नहीं है। मध्य प्रदेश सरकार ने 1 अप्रैल 2007 को बालिका जन्म के प्रति जनता में सकारात्मक सोच पैदा करने, लिंग अनुपात में सुधार करने, बालिकाओं की शैक्षणिक और स्वास्थ्य की स्थिति में सुधार तथा बालिकाओं के अच्छे भविष्य की आधारशिला रखने के  लक्ष्य के साथ राज्य में लाडली लक्ष्मी योजना (Ladli Laxmi Yojana) की शुरुआत की थी।

इस योजना के अंतर्गत बालिकाओं के लालन-पालन, उच्च शिक्षा और विवाह हेतु राज्य सरकार द्वारा आर्थिक मदद प्रदान की जाती है। इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए ऑनलाइन तथा ऑफलाइन आवेदन किया जा सकता है। योजना का लाभ गरीब परिवारों की केवल उन बालिकाओं को दिया जाएगा, जिनका जन्म 1 अप्रैल 2008 के बाद हुआ है। ऑफलाइन आवेदन के लिए आंगनबाड़ी केंद्रों, लोक सेवा केंद्रों आदि से संपर्क किया जा सकता है। Ladli Laxmi Yojana के अंतर्गत  ₹118000 की धनराशि किस्तों में बालिका को प्रदान की जाएगी।

Table of Contents

Key Highlights of Ladli Laxmi Yojana MP

Name of Yojana  Ladli Laxmi  Yojana MP 
Launched by  Shiv Raj Singh Chauhan, Chief Minister of Madhya Pradesh 
Launched on  1st April 2007
Related Department  Women and Child Development Department, Govt of Madhya Pradesh
Beneficiaries Girls of Madhya Pradesh
Objective of Portal  To Improve the standard of living of girls in Madhya Pradesh
Status of Yojana  Active 
Registration Porcess Online/Offline
Designed, Developed & Maintained  by  Directorate of Women and Child Development Department, Govt of Madhya Pradesh
Official Address Directorate of Women and Child Development Department,

Vijayaraje Vatsalya Bhawan, Plot NO. 28A, Arera Hills, Bhopal, Madhya Pradesh – 462011

Email ID  [email protected] 
Official Website Click Here

UP Ration Card Online Services

Ladli Laxmi Yojana MP Portal : –  मध्य प्रदेश सरकार ने राज्य में  लाडली लक्ष्मी योजना को सुचारु रुप से लागू करने के लिए वेब पोर्टल की स्थापना की है जिसे Ladli Laxmi Yojana Portal के नाम से जाना जाता है।  इस पोर्टल पर राज्य सरकार द्वारा लाडली योजना के विवरण जैसे योजना से संबंधित सूचनाएं, योजना का  लाभ, योजना के लिए आवेदन एवं पंजीकरण,  राशि का प्रदाय तथा जन सामान्य सेवाओं में  आवेदन पत्र, छात्रवृत्ति पंजीयन, बालिका विवरण तथा प्रमाण पत्र  आदि  सेवाएं ऑनलाइन उपलब्ध करवाई गई हैं।

लाडली लक्ष्मी योजना मध्य प्रदेश पोर्टल का उपयोग का कोई भी नागरिक योजना के लिए आवश्यक सूचनाओं के बारे में जानकारी तथा योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकता है। इस पोर्टल का संचालन डायरेक्टरेट महिला एवं बाल विकास विभाग, विजय राजे वात्सल्य भवन, प्लॉट नंबर 28A , अरेरा हिल्स, भोपाल, मध्य प्रदेश – 462011 

लाडली लक्ष्मी योजना के उद्देश्य

देश में एक बड़ी आबादी ऐसी है जो आर्थिक रूप से कमजोर होने के कारण अपनी बेटियों को उच्च शिक्षा दिलाने में असमर्थ है। अधिकांश परिवारों की हालत तो ऐसी है, कि वे अपनी बेटियों के लालन-पालन और शादी करने में भी असमर्थ हैं। समाज में लड़का और लड़कियों के बीच बढ़ रहे भेदभाव को देखते हुए मध्य प्रदेश सरकार ने बेटियों की पढ़ाई  और शादी के लिए आर्थिक सहायता प्रदान करने के लिए राज्य में लाडली लक्ष्मी योजना की शुरुआत की है।

लाडली लक्ष्मी योजना का मुख्य उद्देश्य बालिकाओं को विशेष अधिकार उपलब्ध कराना है जिससे कि वे अपनी क्षमताओं के अनुरूप अपने जीवन को सार्थक बनाने में कामयाब हो पाए।  बालिकाओं के लिए ऐसा  परिवेश सृजित करना है,जिसमें माता-पिता और समाज बालिकाओं का स्नेह तथा संपूर्ण आदर के साथ संरक्षण व देखभाल  करें। इसी उद्देश्य की पूर्ति के लिए मध्य प्रदेश सरकार ने 31 जुलाई 2018 को मध्यप्रदेश लाडली लक्ष्मी ( बालिका प्रोत्साहन) अधिनियम 2018 को लागू किया।

Ladli Laxmi Yojana के माध्यम से राज्य सरकार लड़कियों के प्रति लोगों की मानसिकता अर्थात नकारात्मक सोच को बदलते हुए  बालिकाओं के भविष्य को उज्जवल बनाना चाहती हैं। इस योजना के माध्यम से राज्य सरकार महिला और पुरुषों के लिंग अनुपात को कम करके महिला सशक्तिकरण को बढ़ावा देना चाहती है।  लाडली लक्ष्मी योजना के अंतर्गत दी जाने वाली आर्थिक मदद  का बालिकाओं की उच्च शिक्षा और विवाह के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है। 

One District One Product Scheme

लाडली लक्ष्मी योजना 2021  की विशेषताएँ पात्रता  शर्तें

मध्य प्रदेश सरकार ने Ladli Laxmi Yojana  का लाभ प्राप्त करने के लिए कुछ नियमों व शर्तों को लागू किया है, जो इस प्रकार है।

  • लाडली लक्ष्मी योजना का लाभ प्राप्त करने वाली बालिका के माता-पिता मध्य प्रदेश के निवासी होनी चाहिए।
  •  पंजीकृत बालिका के माता-पिता टैक्सपेयर (Tax Payer) नहीं होने चाहिए। लेकिन यदि लाडली लक्ष्मी योजना में रजिस्ट्रेशन के बाद बालिका के माता पिता Tax Payee बन जाते हैं, तो उन्हें इस योजना का लाभ जारी रहेगा।
  • दूसरे बच्चे के जीवित होने पर माता पिता को  परिवार नियोजन (Family Planning)  अपनाना आवश्यक है।
  • Ladali Yojana के अंतर्गत ₹100000 की एकमुश्त राशि पंजीकृत वहीं बालिका प्राप्त कर सकती है, जिसमें 18 साल से पहले शादी ना की हो।
  • अगर कोई बालिका योजना अवधि से पहले पढ़ाई छोड़ देती है, तो उसे इस योजना का लाभ प्रदान नहीं किया जाएगा।
  • इस योजना का लाभ एक परिवार की दो बालिकाएं ही प्राप्त कर सकते हैं,  लेकिन यदि दूसरी संतान दो जुड़वा बच्चियों के रूप में हुई हैं, तो उन्हें इस योजना का संपूर्ण लाभ प्रदान किया जाएगा।
  • किसी भी अनाथ बालिका को इस योजना का लाभ तभी प्राप्त होगा, जब उसे किसी परिवार ने गोद ले लिया हो तथा इससे संबंधित प्रमाण पत्र परिवार द्वारा विधिवत प्रस्तुत किया गया हो।
  • Ladli Lakshmi Yojana का लाभ गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाले परिवारों  ही प्राप्त कर सकते हैं। 

Ladli Laxmi Yojana के लिए आवश्यक दस्तावेज

  • राज्य सरकार द्वारा Prescribed  पूर्णतया भरा हुआ आवेदन पत्र।
  • बालिका का जन्म प्रमाण पत्र।
  • निवास प्रमाण पत्र।
  • बैंक का नाम, शाखा का नाम तथा अकाउंट नंबर के साथ आवेदक की पास बुक की कॉपी।
  • बालिका व माता पिता का पहचान पत्र ( आधार कार्ड, राशन कार्ड)
  • मोबाइल नंबर  व ईमेल आईडी ( स्वैच्छिक)
  • आवेदक का नवीनतम आकार का पासपोर्ट साइज फोटो। 

लाडली लक्ष्मी योजना मध्य प्रदेश 2021  आर्थिक राशि 

लाडली लक्ष्मी योजना के अंतर्गत आवेदन करने के बाद राज्य सरकार द्वारा आंगनबाड़ी केंद्र के माध्यम से सत्यापन किया जाता है।  सत्यापन प्रक्रिया पूरी हो जाने के बाद  निश्चित समयावधि पर आवेदक के खाते में राज्य सरकार द्वारा निश्चित धनराशि जमा की जाती है, जो इस प्रकार है।

प्रथम किश्त–  लाडली योजना के लिए पंजीकरण होते ही राज्य सरकार द्वारा ₹6000 की राशि बालिका के अकाउंट में जमा कर दी जाती है।  राज्य सरकार द्वारा 5 साल तक  ₹6000 की राशि प्रतिवर्ष बालिका के अकाउंट में जमा की जाती है, जब तक कि यह राशि ₹30000 नहीं हो जाती है।

द्वितीय किश्त– इस योजना में पंजीकृत बालिका जब पांचवी कक्षा से छठवीं कक्षा में पदोन्नत होती है, तो 6th कक्षा के प्रवेश पर उसे ₹2000 की वित्तीय सहायता प्रदान की जाती है।

तृतीय किश्त–  Ladli Laxmi Yojana में पंजीकृत बालिका जब 8वी कक्षा से 9वीं कक्षा में पदोन्नत होती है, तो 9th कक्षा के प्रवेश पर उसे ₹4000 की वित्तीय सहायता प्रदान की जाती है।

चौथी किश्त–  इस योजना में पंजीकृत बालिका जब 10वी कक्षा से 11वीं कक्षा में पदोन्नत होती है, तो 11th कक्षा के प्रवेश पर उसे ₹6000 की वित्तीय सहायता प्रदान की जाती है।

पांचवी किश्त–  इस योजना में पंजीकृत बालिका जब 11वी कक्षा से 12वीं कक्षा में पदोन्नत होती है, तो 12th कक्षा के प्रवेश पर उसे ₹6000 की वित्तीय सहायता प्रदान की जाती है। इसके अलावा 12th कक्षा में  ₹200 प्रतिमाह वितिया सहायता अलग से दी जाती है। 

छठी किश्त–  यदि लाडली योजना में पंजीकृत बालिका  18 साल से पहले शादी नहीं करती है तो 21 साल पूरे होने पर उसे ₹100000 की एकमुश्त वित्तीय सहायता प्रदान की जाती है। 

उत्तर प्रदेश जन सुनवाई पोर्टल ऑनलाइन शिकायत कैसे करे?

Ladli Laxmi Yojana की विशेषताएँ 

  • यह योजना बालिकाओं के सशक्तिकरण को ध्यान में रखकर तैयार की गई है और उन्हें आर्थिक मदद की पहल करती है। 
  • योजना का लाभ गरीब परिवार कि उन बालिकाओं को प्रदान किया जाएगा जिनका जन्म 1 अप्रैल 2008  के बाद हुआ है।
  • बालिकाओं को स्कूल भेजने के लिए अभिभावकों को सक्षम बनाने के लिए आर्थिक मदद प्रदान की जाती है। 
  • जो बालिकाएं बीच में ही स्कूल छोड़ देती है, उन्हें योजना से बाहर कर दिया जाएगा अर्थात नहीं योजना का लाभ नहीं मिल पाएगा।
  • बालिकाओं की शादी के लिए राज्य सरकार द्वारा ₹100000 की आर्थिक मदद दी जाती है। 
  • 18 वर्ष की उम्र से पहले विवाहित लड़कियों को लाडली लक्ष्मी योजना का लाभ नहीं दिया जाएगा।
  • इस योजना का लाभ वही व्यक्ति उठा सकते हैं, जो किसी प्रकार के टैक्स का भुगतान नहीं कर सकते है।
  • Ladli Laxmi Yojana के लिए आवेदन ऑनलाइन व ऑफलाइन दोनों माध्यम से किया जा सकता है। 
  • अगर किसी माता-पिता ने 2 जीवित बच्चों के बाद एक लड़की को गोद लिया है, तो उन्हें भी इस योजना का लाभ प्रदान किया जाएगा।
  • Ladli Lakshmi Yojana का लाभ प्राप्त करने के लिए जन्म के प्रथम वर्ष में  योजना के लिए पंजीकरण करवाना आवश्यक है। 
  • यदि किसी परिवार में दो बच्चे हैं तथा माता-पिता में से किसी की मृत्यु हो जाती है, तो परिवार नियोजन अपनाए जाने की शर्त लागू नहीं होगी। ऐसी स्थिति में मृतक का प्रमाण पत्र प्रस्तुत करना आवश्यक है।

लाडली लक्ष्मी योजना के लाभ 

मध्य प्रदेश सरकार द्वारा Ladli Laxmi Yojana MP की शुरुआत राज्य की बालिकाओं की भविष्य की नीव को मजबूत करने के लिए की गयी थी। लाडली लक्ष्मी योजना राज्य सरकार   द्वारा पंजीकृत गरीब परिवारों की नकारात्मक सामाजिक सोच को बदलते हुए बालिकाओं की शैक्षणिक और आर्थिक स्थिति में सुधार लाने का एक प्रयास है। Ladli Laxmi Yojana  से प्राप्त होने वाले लाभ इस प्रकार हैं।

  • लाडली लक्ष्मी योजना के अंतर्गत राज्य सरकार द्वारा पंजीकृत बालिकाओं को कुल ₹118000 की राशि प्रदान की जाती है।
  • लाडली योजना के अंतर्गत राज्य सरकार प्रतिवर्ष पंजीकृत बालिका के जन्म के बाद उनके नाम से  ₹6000 का राष्ट्रीय बचत प्रमाण पत्र खरीदती है, जो लगातार 5 साल तक यह प्रमाण पत्र खरीदती है अर्थात जब तक कुल राशि ₹30000 तक नहीं पहुंच जाती है।
  • इस योजना के अंतर्गत पंजीकृत बालिकाओं को अगली कक्षा में पदोन्नत होने पर  अगली कक्षा में दाखिले के समय निम्नलिखित निश्चित राशि प्रदान की जाती है। (i) कक्षा- 6 – ₹2000 (ii) कक्षा- 9 – ₹4000 (iii) कक्षा- 11 – ₹6000 (iv) कक्षा- 12 – ₹6000 
  • Ladli Laxmi Yojana के अंतर्गत बालिका को 11th क्लास के बाद  12th तक ₹4000 के अतिरिक्त ₹200 प्रति माह की राशि प्रदान की जाएगी।
  • अगर किसी लड़की ने 18 साल की उम्र से पहले शादी नहीं की है, तो उसे  21 वर्ष की उम्र प्राप्त करने पर ₹100000 की राशि एकमुश्त प्रदान की जाती है।
  • इस परिवार में दूसरी संतान के रूप में अगर दो जुड़वा लड़कियों ने जन्म लिया है तो भी वे इस योजना के पात्र हैं।
  • दो जीवित बच्चों के बाद भी अगर किसी परिवार ने   किसी बालिका को गोद लिया है तो उसे भी इस योजना के अंदर शामिल किया गया है।
  • Ladli Laxmi Yojana के अंतर्गत 21 साल की अवधि पर शादी करने वाली बालिका को ₹100000 की राशि प्रदान की जाती है लेकिन  परिवार इस राशि को दहेज के रूप में इस्तेमाल नहीं कर सकते हैं। 

[यूपी भूलेख] Bhulekh UP Naksha Online

मध्य प्रदेश लाडली लक्ष्मी योजना 2021 ऑनलाइन आवेदन कैसे करें?

मध्य प्रदेश सरकार द्वारा Ladli Laxmi Yojana की शुरुआत राज्य की बालिकाओं के भविष्य को उज्जवल बनाने के लिए किया गया है। राज्य सरकार ने लाडली योजना मध्य प्रदेश  के लिए आवेदन  की ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों सुविधाएं प्रदान किए हैं। 

लाडली लक्ष्मी योजना 2021 के लिए ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया

अगर कोई व्यक्ति Ladli Laxmi Yojana मध्य प्रदेश के लिए लाडली  लक्ष्मी योजना पोर्टल  की आधिकारिक वेबसाइट के माध्यम से ऑनलाइन आवेदन करना चाहता है, तो नीचे दिए गए स्टेप्स फॉलो करें। 

  • सर्वप्रथम Ladli Laxmi Yojana  की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाएं। ऑफिशियल वेबसाइट का होम पेज खुल जाएगा।
  • Home Page परजन सामान्य के लिए के सेक्शन में “आवेदन पत्र”  का विकल्प आइकन के साथ दिखाई देगा। आवेदन पत्र के टैब पर क्लिक करें। “आवेदन पत्र”   के लिंक पर क्लिक करते ही  एक नया पेज खुलेगा, जहां लोक सेवा प्रबंधन, जन सामान्य तथा परियोजना अधिकारी के विकल्प मिलेंगे।
  • जन सामान्य के लिंक पर क्लिक करें। एक नये पेज Ladli Laxmi Yojana हेतु आवेदन (जनसामान्य) न्यूनतम पात्रता मापक नाम  के साथ खुल जाएगा। 
  • आवेदन पत्र में (i) मैं मध्यप्रदेश का मूल निवासी हूं (ii) मैं आयकर दाता हूं (iii) इस बालिका हेतु आवेदन किया जा रहा है (iv)  बालिका का पंजीयन आंगनबाड़ी में कराया जा चुका है  जैसे विकल्प मिलेंगे। Drop Down List से उचित विकल्प का चुनाव करें।
  • दिए गए Declaration को सावधानी पूर्वक पढें और स्वीकृती के लिए Check करे तथा “जानकारी सुरक्षित करें” के टैब पर क्लिक करें। Ladli Laxmi Yojana के लिए मुख्य आवेदन पत्र  नए पेज पर खुल जाएगा।
  • सामान्य जानकारी के अंत ड्रॉप डाउन लिस्ट से जिले  वह परियोजना का चुनाव करें।  बालिका की व्यक्तिगत जानकारी के सेक्शन में  बालिका का नाम, उपनाम, जन्मतिथि, माता व पिता का नाम तथा उपनाम, माता व  पिता के आधार कार्ड का नम्बर आदि को दिए गए कॉलम में भरें तथा नेपाली का जन्म, माता व पिता की आयु का ड्रॉप डाउन लिस्ट से चुनाव करें।
  • परिवार की जानकारी सेक्शन में ड्रॉप डाउन लिस्ट से  बालिका के भाई/ बहनों की संख्या, आवेदक का वर्ग, परिवार के आय के स्रोत, परिवार की सालाना आय, परिवार बीपीएल है या नहीं, परिवार नियोजन किसने अपनाया है,  का  चुनाव करें।
  • ड्रॉप डाउन लिस्ट से बालिका के टीकाकरण की स्थिति का चयन करें तथा पत्राचार हेतु , मकान करना, गली/ मोहल्ला, विकास खंड, ग्राम पंचायत ,ग्राम/वार्ड, आंगनबाडी का चुनाव करे तथा आंगनबाडी कार्यकर्ता का नाम, तहसील, विधानसभा क्षेत्र का नाम, पिन कोड, मोबाइल नम्बर, ई मेल आदि को दिए गए Column में सही सही भरे। 
  • इसके बाद बालिका का टीकाकरण कारण, बालिका का माता/ पिता के साथ हो, मूल निवास प्रमाण पत्र, बालिका का जन्म प्रमाण पत्र आदि दस्तावेज अपलोड करें। 
  • Upload की जाने वाली फोटो की साईज 40kbसे 100kb के बीच तथा JPG/JPEG/PNG/GIF Format में ही होनी चाहिए। Upload किये जाने वाले अन्य दस्तावेज़ की साईज 40kbसे 200kb के बीच तथा JPG/JPEG/PNG/GIF Format में ही होनी चाहिए। 
  • दिए गए Captcha Code को निर्धारित कॉलम में भरे और “जानकारी सुरक्षित करे” के टैब पर Click करे।  आवेदन स्वीकृत हो जाने रजिस्ट्रेशन नंबर जिसके माध्यम से अपने आवेदन पत्र का Status पता कर सकते है। 
  • संबंधित विभाग द्वारा आपके द्वारा दिए गए आवेदन पत्र के आधार पर आंगनबाड़ी केंद्रों के माध्यम से सत्यापन करवाया जाए। 
  • अगर सत्यापन प्रक्रिया में आपका आवेदन पत्र सही पाया जाता है, तो सक्षम अधिकारी द्वारा Certificate जारी किया जाएगा और राज्य सरकार द्वारा Ladli Laxmi Yojana के अंतर्गत ₹6000 की राशि सहायता प्रदान की जाएगी। 

विधवा पेंशन योजना ऑनलाइन अप्लाई कैसे करे? 

Ladli Laxmi Yojana  2021 के लिए ऑफलाइन आवेदन प्रक्रिया

अगर कोई व्यक्ति Ladli Laxmi Yojana मध्य प्रदेश के लिए  ऑफलाइन आवेदन करना चाहता है, तो नीचे दिए गए स्टेप्स फॉलो करें। 

  • सर्वप्रथम अपने नजदीकी परियोजना कार्यालय, लोक सेवा केंद्रों पर जाए और  Ladli Laxmi Yojana  के लिए राज्य सरकार द्वारा Prescribed आवेदन पत्र प्राप्त करे।
  • आवेदन पत्र में मांगी गई सभी जानकारी जैसे  सामान्य जानकारी, बालिका की व्यक्तिगत जानकारी,परिवार की जानकारी, बालिका के टीकाकरण की स्थिति, पत्राचार हेतु जानकारी  को सही सही भरें। 
  • बालिका का माता-पिता के साथ खिंचा हुआ  नवीनतम फोटोग्राफ लगाएँ।
  • आवेदन पत्र के लिए आवश्यक दस्तावेज जैसे (i) बालिका का टीकाकरण कार्ड ( जच्चा बच्चा कार्ड) (ii)  मूल निवासी/स्थानीय/ माता-पिता पहचान पत्र/ परिवार का राशन कार्ड का प्रमाण पत्र (iii) बालिका का जन्म प्रमाण पत्र  आदि को आवेदन पत्र के साथ लगाएं।
  • पूर्णतया भरे हुए आवेदन पत्र को  आवश्यक दस्तावेज़ों सहित आंगनबाड़ी केंद्र/ लोक सेवा केंद्र पर जमा कराएं और पावती पत्र प्राप्त करें।
  • आंगनबाड़ी केंद्र/ लोक सेवा केंद्र अधिकारी द्वारा आवेदन पत्र में दी गई जानकारियों के दस्तावेज़ों के सत्यापन  का सत्यापन किया जाएगा।
  • सत्यापन प्रक्रिया  सही पाए जाने के बाद  परियोजना कार्यालय/आंगनबाडी/सेवा केंद्र अधिकारी द्वारा  उसे सक्षम अधिकारी के पास भेज दिया जाएगा।
  • अगर सक्षम अधिकारी को उचित लगता है तो वह आवेदन पत्र पर सर्टिफ़िकेट जारी कर देगा अन्यथा उसे रिजेक्ट कर देगा।

Ladli Laxmi Yojana 2021 में  छात्रवृति के लिए पंजीकरण कैसे करे?

अगर किसी व्यक्ति में Ladli Laxmi Yojana 2021 में छात्रवृत्ति के लिए ऑनलाइन आवेदन  करना है, तो नीचे दिए गए इस पेज को फॉलो करें।

  • सर्वप्रथम Ladli Laxmi Yojana  की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाएं। ऑफिशियल वेबसाइट का होम पेज खुल जाएगा।
  • Home Page पर जन सामान्य के लिए के सेक्शन में “छात्रवृत्ति पंजीयन”  का विकल्प आइकन के साथ दिखाई देगा।  छात्रवृत्ति पंजीयन के टैब पर क्लिक करें। “ छात्रवृत्ति पंजीयन”   के लिंक पर क्लिक करते ही छात्रवृत्ति प्रपत्र के नाम से एक नया पेज खुलेगा। 
  • जहां  बालिका का पंजीकरण   क्रमांक  के कॉलम में  लाडली लक्ष्मी पंजीयन  को भरें और खोजें के बटन पर क्लिक करें 
  • खोजें के बटन पर क्लिक करते ही आपके द्वारा उपलब्ध करवाई गई सूचना के आधार पर आपके विवरण के साथ आवेदन पत्र  खुल जाएगा,  जहां सामान्य जानकारी एवं व्यक्तिगत जानकारी पहले से दर्ज मिलेंगे।
  • बालिका की छात्रवृत्ति हेतु जानकारी भरें, के सेक्शन में समग्र आईडी (SAMGRA ID) तथा बालिका आधार क्रमांक भरें। 
  • शाला संबंधी जानकारी के अंतर्गत  शाला का प्रकार,जन शिक्षा केंद्र, शाला का डायज कोड, शाला का नाम, बालिका किस कक्षा में अध्ययनरत है?, अध्ययनरत वर्ष  आदि  को भरे  अथवा चुनाव करें।
  • पत्राचार हेतु शाला का पता, विकासखण्ड , ग्राम/शहर, पिन कोड आदि भरे। बालिका की बैंक संबंधित जानकारी में बैंक का चुनाव करे तथा  खाता क्रमांक, IFSC क्रमांक भरे। 
  • बैंक की पासबुक की छाया प्रति को Upload करे और जानकारी सुरक्षित करे के टैब पर Click करे। इस प्रकार Ladli Laxmi Yojana MP 2021 के लिए आवेदन जमा हो जाएगा।  

विधवा पेशन योजना उत्तर प्रदेश ऑनलाइन आवेदन कैसे करे?

Ladli Laxmi Yojana MP 2021 ऑनलाइन आवेदन स्थिति कैसे देखे?

अगर किसी व्यक्ति में Ladli Laxmi Yojana 2021 के लिए ऑनलाइन आवेदन किया है और लाडली योजना मध्य प्रदेश  पोर्टल के माध्यम से आवेदन का स्टेटस ऑनलाइन चेक करना चाहता है, तो नीचे दिए गए इस पेज को फॉलो करें।

  • सर्वप्रथम Ladli Laxmi Yojana  की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाएं। ऑफिशियल वेबसाइट का होम पेज खुल जाएगा।
  • Home Page पर जन सामान्य के लिए के सेक्शन में “आवेदन पत्र”  का विकल्प आइकन के साथ दिखाई देगा। प्रमाण पत्र के टैब पर क्लिक करें। “प्रमाण पत्र”   के लिंक पर क्लिक करते ही  प्रमाण पत्र खोजे के नाम से एक नया पेज खुलेगा।
  • जहां  बालिका का पंजीकरण   क्रमांक  के कॉलम में  लाडली लक्ष्मी पंजीयन  को भरें और खोजें के बटन पर क्लिक करें 
  • खोजें के बटन पर क्लिक करते ही आपके द्वारा उपलब्ध करवाई गई सूचना के आधार पर प्रमाण पत्र का विवरण आपकी स्क्रीन पर खुल जाएगा। 

मध्य प्रदेश लाडली लक्ष्मी योजना बालिका का विवरण कैसे देखे?

अगर  कोई व्यक्ति में Ladli Laxmi Yojana 2021 में बालिका का विवरण चेक करना चाहता है, तो नीचे दिए गए इस पेज को फॉलो करें। 

  • सर्वप्रथम Ladli Lakshmi Yojana  की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाएं। ऑफिशियल वेबसाइट का होम पेज खुल जाएगा।
  • Home Page पर जन सामान्य के लिए के सेक्शन में “ बालिका का विवरण”  का विकल्प आइकन के साथ दिखाई देगा।  बालिका का विवरण के टैब पर क्लिक करें। “बालिका का विवरण” के लिंक पर क्लिक करते ही बालिका खोजे के नाम से एक नया पेज खुलेगा। 
  • जहां  ड्रॉप डाउन लिस्ट से अपने जिले का चुनाव करें तथा खोज का प्रकार (Type of Search) (i) बालिका के नाम से(ii)  बालिका की माता के नाम से(iii) बालिका के पिता के नाम से(iv) बालिका के पंजीयन क्रमांक से (v) बालिका के जन्म दिनांक से  में से किसी एक का चुनाव करें। 
  • खोज के प्रकार, जो आपने  चुना है, से संबंधित जानकारी दिए गए कॉलम में भरें और खोजें के बटन पर क्लिक करे। 
  • आपके द्वारा उपलब्ध कराई गई सूचना  से संबंधित विवरण स्क्रीन पर प्रदर्शित हो जाएगा, जहां से आप बालिका का विवरण पता कर सकते हैं। 

मध्य प्रदेश लाडली लक्ष्मी योजना पोर्टल पर लॉगिन कैसे करें?

अगर  कोई व्यक्ति में Ladli Laxmi Yojana पोर्टल पर Login  करना चाहता है, तो नीचे दिए गए इस पेज को फॉलो करें। 

  • सर्वप्रथम Ladli Laxmi Yojana  की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाएं। ऑफिशियल वेबसाइट का होम पेज खुल जाएगा।
  • Home Page पर Header में Login (लॉगइन)   का विकल्प दिखाई देगा।   लॉगइन के विकल्प पर क्लिक करें। “ लॉगइन” के लिंक पर क्लिक करते ही लोग  लॉगइन सेक्शन का पेज खुलेगा। 
  • लॉगइन सेक्शन में Drop Down List से मांग अपनी सुविधानुसार सूचनाओं का चुनाव करें और Sign In के बटन पर Click करे। 
  • इस प्रकार कोई भी व्यक्ति सफलता पूर्वक Ladli Laxmi Yojana Portal पर आसानी से Login कर सकता है। 

Ladli Laxmi Yojana MP Helpline Number 

इस लेख में Ladli Laxmi Yojana मध्य प्रदेश के संबंध में विस्तार पूर्वक जानकारी उपलब्ध करवाई गई है। अगर फिर भी किसी व्यक्ति को  मध्य प्रदेश Ladli Laxmi Yojana 2021 से संबंधित किसी प्रकार की समस्या  या शिकायत है, तो नीचे दिए गए  Ladli Laxmi Helpline Number पर संपर्क कर सकता है तथा  अपने  समस्या का समाधान  अपने  हेतु  [email protected]  पर ईमेल कर सकते हैं।

Head Officer 

संचालनालय महिला एवं बाल विकास विभाग, 

विजयाराजे वात्सल्य भवन, प्लाट नम्बर 28A,

अरेरा हिल्स, भोपाल, मध्य प्रदेश – 462011

Email ID – [email protected]

Helpline Number 

Tel : Commissioner: 0755-2550910

Fax: 0755-2550912

E-mail: [email protected]

उत्तर प्रदेश शादी अनुदान योजना आवेदन कैसे करे?

Ladli Laxmi Yojana Related FAQs

Q-1. लाडली लक्ष्मी योजना के लिए कौन पात्र है?

Ans: – Ladli Laxmi Yojana की पात्रता शर्ते इस प्रकार है – 

  • आवेदक के माता-पिता मध्यप्रदेश के मूल निवासियों होनी चाहिए।
  •  आवेदक का माता पिता मध्यप्रदेश सरकार का करदाता नहीं होना चाहिए।
  • आवेदक के माता-पिता को दूसरे बच्चे के जन्म से 1 साल के अंदर परिवार नियोजन अपनाना आवश्यक है। अगर एक ही बच्चा है, तो बिगर परिवार नियोजन के भी योजना का लाभ प्राप्त कर सकता है।
  • बालिका के जन्म के 1 वर्ष के अंदर अंदर आवेदन करना आवश्यक है। 
  • आवेदन से पूर्व में बालिका का निकटतम आंगनबाड़ी केंद्र में पंजीकरण  तथा नियमित उपस्थिति आवश्यक है।

Q-2.  मध्य प्रदेश लाडली  लक्ष्मी योजना  का लाभ प्राप्त करने के लिए क्या करना होगा ?

Ans: –  आवेदक को आवश्यक दस्तावेज़ों के साथ सीधे अथवा आंगनबाड़ी कार्यकर्ता के माध्यम से किसी भी परियोजना कार्यालय/ लोक सेवा केंद्र अथवा किसी भी इंटरनेट कैफे में ऑनलाइन आवेदन करना होगा।  आवेदन पत्र जमा होने के 15 दिन  के अंदर  समस्त दस्तावेज़ परियोजना अधिकारी/ विकास खंड महिला सशक्तिकरण अधिकारी से वेरीफाई कराने होंगे। 

Q-3. मध्यप्रदेश लाडली  लक्ष्मी योजना  के लिए कौन कौन से दस्तावेज़ आवश्यक हैं?

Ans: –  Ladli Laxmi Yojana मध्यप्रदेश के लिए निम्नलिखित दस्तावेज आवश्यक है।

  • माता पिता के साथ बालिका का फोटोग्राफ।
  • मूल निवास प्रमाण पत्र।
  • बालिका का जन्म प्रमाण पत्र।
  • द्वितीय बालिका की स्थिति में परिवार नियोजन का प्रमाण पत्र।
  • आंगनबाड़ी केंद्र में बालिका का पंजीकरण क्रमांक।
  • बालिका के टीका करण  से संबंधित दस्तावेज। 

Q-4. अगर किसी व्यक्ति को प्रथम प्रसव पर दो या तीन बालिकाएं जुड़वा होती हैं तो क्या समस्त बालिकाओं को इस योजना का लाभ मिलेगा?

Ans: – हां,  समस्त बालिकाएं लाडली लक्ष्मी योजना  के लिए पात्र होंगी। अगर द्वितीय प्रश्नों पर भी जुड़वा  बालिकाएं पैदा होती है तो भी वह Madhya Pradesh Ladli Laxmi Yojana  का लाभ प्राप्त करने की पात्र है।

Q-5. यदि किसी विशेष कारण से बालिका के जन्म के 1 साल के अंदर आवेदन नहीं किया जा सका, तो क्या इस योजना का लाभ प्राप्त किया जा सकता है?

Ans: –  ऐसी परिस्थिति में बालिका के माता-पिता को अधिकार है कि वह 1 साल के अंदर रजिस्ट्रेशन ना होने के जायज कारण के साथ बालिका के जन्म के 2 वर्ष के अंदर अंदर कलेक्टर से अपील कर सकेंगे। कलेक्टर को अधिकार है कि वह गुण दोष के आधार पर परीक्षण कर अपील को मान्य  एवं एवं अन्य कर सकता है। 

Q-6. क्या किसी महिला कैदी  से जन्मी बालिका को Ladli Laxmi Yojana का लाभ दिया जा सकता है?

Ans: – हां किसी महिला कैदी से जन्मी बालिका को भी मध्य प्रदेश लाडली लक्ष्मी योजना का लाभ प्राप्त करने का अधिकार है। 

Q-7. गोद ली गई बालिका को कब तक योजना का लाभ प्राप्त हो सकता है?

Ans: – राज्य सरकार द्वारा विधि सम्मत प्रक्रिया से गोद ली गई बालिका को प्रथम बालिका माना जाएगा और बालिका की आयु 6 वर्ष होने तक योजना का लाभ दिया जा जाएगा लेकिन गोद लेने वाला परिवार आयकर दाता नहीं होना चाहिए। 

Q-8. बालिका के माता अथवा पिता की मृत्यु होने पर दो बच्चों के होते हुए दूसरी शादी से पैदा  हुई बालिका  क्या इस योजना के लाभ की पात्र है?

Ans: – नहीं,  2 बच्चे होते हुए अगर पति या पत्नी में से किसी की मृत्यु होने पर दूसरे विवाह  से पैदा होने  बालिकाओं को MP Ladali Laxmi Yojana  के लिए पात्र नहीं माना जाएगा।

Q-9.  परिवार नियोजन कराने में विलंब होने पर क्या योजना का लाभ प्राप्त किया जा सकता है?

Ans: –     यह स्वास्थ संबंधित कारणों से  कोई परिवार 1 वर्ष की अवधि के अंदर परिवार नियोजन नहीं करवा पाता है तो वह बालिका के जन्म से 2 वर्ष के अंदर परिवार नियोजन अपनाते हुए जिला कलेक्टर के समक्ष आवेदन प्रस्तुत कर सकते हैं।  जिला  कलेक्टर आवेदक  की जायज कारण को देखते  कोई उसे  मान्य  कर सकता है। 

Q-10. यदि किसी हितग्राही की एनएससी गुम हो गई है तो वह प्रमाण पत्र कैसे प्राप्त करे ?

Ans: – अगर किसी लाभार्थी की एनएससी गुम हो गई है तो उसे डुप्लीकेट एनएससी बनवा कर जमा करवाने होंगे उसके बाद ही उसे प्रमाण पत्र जारी किया जा सकेगा।

Q-11. क्या लाभार्थी को पूर्व एनएससी की भांति 5 प्रमाण पत्र जारी किए जाएंगे ?

Ans: –  नहीं, मात्र एक प्रमाण पत्र ही जारी किया जाएगा  जिसपर हितग्राही को समय-समय पर मिलने वाले समस्त लाभ अंकित होगे। 

Q-12. बालिका लाभार्थी को योजना से मिलने वाली अंतरिम राशि किस प्रकार मिलेगी ?

Ans: – अंतरिम राशि की प्राप्ति के लिए बालिका को समय समय पर विभिन्न कक्षा में प्रेवेश, आधारकार्ड क्रमांक, समग्र आई डी, बैंक का विवरण देना होगा, ताकि लाभार्थी के बैंक खाते में सीधे ई पेमेंट  के माध्यम से राशि जमा की जा सके। 

Also Read: – उत्तर प्रदेश प्रोपर्टी & मैरिज रजिस्ट्रेशन ऑनलाइन कैसे अप्लाई करे?

Spread the love

Leave a Reply