शादी के बाद आधार कार्ड में नाम कैसे अपडेट करें?|Aadhar Update After Marriage

Aadhar Update After Marriageभारत में आधार कार्ड का प्रयोग दिन प्रतिदिन पहचान एवं निवास स्थान के मुख्य दस्तावेज के रूप में किया जा रहा है। धीरे-धीरे आधार कार्ड की लोकप्रियता बढ़ती जा रही हैं। विभिन्न प्रकार की सामाजिक योजनाओं व सेवाओं के लिए आधार कार्ड आवश्यक दस्तावेज बन गया है। आधार कार्ड में कार्ड धारक की बायोमेट्रिक और डेमोग्राफिक सूचनाएं दर्ज रहती हैं। आवश्यकता पड़ने पर कार्ड धारक द्वारा डेमोग्राफिक डाटा के साथ-साथ बायोमैट्रिक डाटा को भी बदला जा सकता है। 

अक्सर शादी के बाद महिलाएं अपना सरनेम बदल लेती हैं और उसके स्थान पर अपने पति का सरनेम जोड़ देती हैं। अतः शादी से पहले बने महिलाओं के आधार कार्ड में उनका नाम परिवर्तित करने (Aadhar Update After Marriage) की आवश्यकता  हो होती है।  यूनिक आइडेंटिफिकेशन अथॉरिटी ऑफ इंडिया ने महिलाओं को शादी के बाद आधार में अपना नाम बदलवाने (Change Name in Aadhaar After Marriage) की ऑनलाइन तथा ऑफलाइन सुविधा प्रदान की है।

आज इस पोस्ट में Aadhar Update After Marriage की संपूर्ण प्रक्रिया के बारे में विस्तार पूर्वक जानकारी प्रदान की जाएगी। अगर आपने भी अपना सरनेम शादी के बाद बदला है, तो आधार कार्ड में नाम बदलने की संपूर्ण जानकारी प्राप्त करने के लिए इस ‘’Aadhar Update After Marriage’’ पोस्ट को अंत तक अवश्य पढ़ें।

ये भी पढ़ें: आधार कार्ड में मोबाइल नंबर कैसे बदलें?

शादी के बाद आधार कार्ड में महिला का नाम कैसे बदले ? /How to update Aadhar Card After Marriage 

शादी के बाद अक्सर महिलाएं अपना उपनाम अथवा सरनेम बदल लेती हैं। वे अपने नाम के आगे अपने पति का सरनेम जोड़ देती हैं। लेकिन मूल प्रमाण पत्र में पुराना नाम होने की वजह से विभिन्न सामाजिक योजनाओं का पूर्णतया लाभ नहीं मिल पाता है। इन योजनाओं का लाभ प्राप्त करने के लिए महिला को अपने आधार कार्ड में अपना नाम चेंज करवाना (Aadhar Update After Marriage) होगा। अगर कोई महिला कानूनी रूप से अपने पति का सरनेम अपने नाम के साथ जोड़ना चाहती है, तो उसे दस्तावेज अर्थात प्रमाण पत्रों में अपडेशन करना होगा। उसे अपने आधार कार्ड को भी अपडेट करना होगा। 

शादी के बाद आधार कार्ड में महिला का नाम बदलना डेमोग्राफिक डाटा में बदलाव से संबंध रखता है। वर्तमान में आधार कार्ड में अपने नाम को अपडेट करना अर्थात Aadhar Update After Marriage करना कोई कठिन काम नहीं है। कोई भी व्यक्ति शादी के बाद आधार कार्ड में अपना नाम बदलने के लिए नीचे दिए गए स्टेप्स को फॉलो कर सकता है।

स्टेप 1: सर्वप्रथम अपने नजदीकी आधार नामांकन केंद्र पर जाएं। नजदीकी नामांकन आधार को आप यूआइडीएआइ की आधिकारिक वेबसाइट से भी खोज सकते हैं।

स्टेप 2: आधार नामांकन केंद्र कार्यकारी अधिकारी को Aadhar Update After Marriage के बारे में बतलाए और उसे अपना अपनी आधार नंबर प्रदान करें।

स्टेप 3: आधार नामांकन अधिकारी द्वारा आपको आधार अपडेशन फॉर्म प्रदान किया जाएगा। आधार अपडेशन फॉर्म में डेमोग्राफिक जानकारियां दिए गए निर्धारित कॉलम्स में सही-सही भरें। 

स्टेप 4: Aadhar Update After Marriage के लिए आधार अपडेशन फॉर्म में सभी जानकारियां भरने के उपरांत दस्तावेज सहित फार्म को नामांकन केंद्र अधिकारी के पास जमा करवा दें। 

स्टेप 5: नामांकन केंद्र अधिकारी द्वारा प्रमाणीकरण के तौर पर आपका बायोमैट्रिक डाटा लिया जाएगा। अगर आपने आधार अपडेशन फॉर्म के साथ मूल दस्तावेज लगाए हैं तो अधिकारी द्वारा उनकी प्रतिलिपि तैयार कर मूल प्रमाण पत्र आपको वापस कर दिए जाएंगे।

स्टेप 6: एक बार आवेदन प्रक्रिया पूरी होने के बाद, आधार नामांकन केंद्र कार्यकारी अधिकारी द्वारा आपको आधार अपडेशन से संबंधित रसीद प्रदान की जाएगी जिसमें आधार अपडेशन नंबर होगा। 

स्टेप 7: आधार अपडेशन रसीद की सहायता से आप ऑनलाइन माध्यम अथवा ऑफलाइन माध्यम से अपने आधार कार्ड में नाम अपडेशन का स्टेटस चेक कर सकते हैं। 

स्टेप 8: आधार नामांकन अधिकारी द्वारा अंत में, 50 रू.(टैक्स सहित) के शुल्क लिया जाएगा। यूआईडीएआई के निर्देशानुसार आधार में नाम अपडेशन के लिए टैक्स सहित ₹50 शुल्क निर्धारित किया गया है। 

ये भी पढ़ें: आधार कार्ड में फोटो कैसे बदलें?

Aadhar Update After Marriage  के लिए ज़रूरी दस्तावेज 

अगर कोई महिला या पुरुष शादी के बाद आधार कार्ड में अपना नाम बदलना चाहता/चाहती है, तो उसे आधार नामांकन केंद्र पर Aadhar Update After Marriage  करवाते समय नाम से संबंधित कुछ दस्तावेज प्रस्तुत करना आवश्यक है। एक महिला अगर शादी के बाद अपने आधार में अपडेट करना चाहती है, तो उसे मैरिज सर्टिफिकेट पेश करना होता है।  

जब आप आधार केंद्र नामांकन अधिकारी को शादी का मूल प्रमाण पत्र पेश करेंगे, तो नामांकन अधिकारी द्वारा मूल प्रमाण पत्र की प्रतिलिपि तैयार कर मूल प्रमाण पत्र आपको वापस लौटा दिया जाता है। ध्यान रहे शादी के मूल प्रमाण पत्र को ले जाना आवश्यक है। 

वैकल्पिक रूप से, आवेदक Aadhar Update After Marriage के लिए निम्नलिखित में से कोई भी एक दस्तावेज़ उपयोग में ला सकता है।

  • मैरिज रजिस्ट्रार द्वारा जारी किया गया शादी का मूल प्रमाण पत्र।
  • क़ानूनी रूप से स्वीकृत नाम परिवर्तन प्रमाण पत्र
  • किसी राजपत्रित अधिकारी या तहसीलदार द्वारा लेटर हेड पर जारी किया गया आवेदक का फोटो पहचान प्रमाण पत्र। 

निष्कर्ष

यूनिक आइडेंटिफिकेशन अथॉरिटी ऑफ इंडिया ने नागरिकों को शादी के बाद अथवा कभी भी अपना डेमोग्राफिक अथवा बायोमैट्रिक डाटा अपडेट करने की सुविधा प्रदान की है। लेकिन यूआईडीएआई ने आधार कार्ड के अलग-अलग विवरणों को अपडेट करने की सीमा निर्धारित की है जैसे जन्मतिथि को पूरी उम्र में एक ही बार बदला जा सकता है।

जबकि नाम को दो बार बदला जा सकता है। अगर आपने शादी के बाद अपना सरनेम बदला है, तो आपको कानूनी रूप से नाम बदलने (Aadhar Update After Marriage ) के लिए आधार कार्ड में भी अपना नाम अपडेट अवश्य करना चाहिए। ताकि आधार से संबंधित सरकारी योजनाओं व सेवाओं का लाभ आसानी से प्राप्त किया जा सके।

Aadhar Update After Marriage  Related FAQs

प्रश्न 1: शादी के बाद आधार कार्ड में नाम अपडेट करने के लिए क्या शुल्क लिया है?

उत्तर- यूनिक आइडेंटिफिकेशन अथॉरिटी ऑफ इंडिया ने Aadhar Update After Marriage  करने के लिए शुल्क के तौर पर ₹50 निर्धारित किए हैं। यह ₹50 की राशि कर सहित है अर्थात ₹50 पर किसी प्रकार का अतिरिक्त टैक्स नहीं दिया जाता है। जैसे ही आधार नामांकन केंद्र पर आपका Aadhar Update After Marriage का अनुरोध दर्ज हो जाता है, आधार नामांकन केंद्र अधिकारी द्वारा आपको एक रसीद प्रदान की जाएगी और शुल्क के तौर पर ₹50 की मांग की जाएगी। आधार नामांकन केंद्र कार्यकारी द्वारा UIDAI  द्वारा तय लिमिट से अधिक शुल्क की मांग नहीं की जा सकती है। अगर कोई नामांकन केंद्र कार्यकारी अधिकारी ऐसा करता है, तो आप शिकायत निवारण सिस्टम के माध्यम से ऑनलाइन अथवा आधार कस्टमर केयर नंबर पर शिकायत दर्ज कर सकते हैं।

प्रश्न 2: आधार कार्ड में नाम कितने दिनों में अपडेट हो जाता है? 

उत्तर: अक्सर लोगों का सवाल होता है कि आधार कार्ड में नाम बदलने के उपरांत कितने दिनों में आधार कार्ड नाम बदल जाता है। आधार में नाम बदलने के अनुरोध के उपरांत (Aadhar Update After Marriage ) आधार कार्ड में दर्शाये जाने में 60-90 दिन तक का समय लग सकता है। यद्यपि आप आधार अपडेशन के समय प्राप्त हुए अपडेट रिक्वेस्ट नंबर की सहायता से ऑनलाइन अथवा ऑफलाइन कभी भी अपने आधार के अपडेशन से संबंधित स्टेटस प्राप्त कर सकते हैं। 

प्रश्न 3: आधार में नाम अपडेट करने के बाद क्या यूआईडीएआई मुझे अपडेटेड आधार कार्ड भेजेगी? 

उत्तर: आधार कार्ड में नाम अपडेट करने के उपरांत UIDAI इंडिया पोस्ट के माध्यम से आधार कार्ड में दिए गए रजिस्टर्ड पते पर एक नया अपडेटेड आधार कार्ड भेजता है।

प्रश्न 4: आधार कार्ड में नाम अपडेट करने के उपरांत यूआईडीएआई से अपडेटेड आधार प्राप्त नहीं होता है तो क्या करें?

उत्तर:  यदि आधार में नाम अपडेट करने (Aadhar Update After Marriage ) के 90 दिन के बाद भी आपको नया आधार कार्ड प्राप्त नहीं होता है, तो आप आधार का ऑनलाइन रिप्रिंट भी ऑर्डर कर सकते हैं।  इसके लिए आप को 50 रु. (टैक्स शामिल) के शुल्क का ऑनलाइन भुगतान करना होता है। रिप्रिंट ऑर्डर करने की शुल्क जमा हो जाने के बाद आधार की कॉपी कार्डधारक के रजिस्टर्ड पते पर भेजी जाती है।

प्रश्न 5: क्या शादी के बाद आधार में नाम बदलने (Aadhar Update After Marriage )का आवेदन रद्द हो सकता  है? 

उत्तर: हां, आधार कार्ड में नाम अपडेट (Aadhar Card Update After Marriage) करने के लिए आवेदन करने के उपरांत अगर आपका आवेदन, आवेदन के समय संलग्न दस्तावेज़ो का गलत या संदिग्ध पाए जाते हैं, तो आपके आधार कार्ड में नाम बदलने का आवेदन रद्द किया जा सकता है। इस प्रकार की परेशानी से बचने के लिए सत्यापन हेतु अपना मूल विवाह प्रमाण पत्र साथ लेकर जाएं।

यह भी अवश्य पढ़े : – आधार संशोधन राजपत्रित अधिकारी पीडीएफ फॉर्म डाउनलोड कैसे करे?