[Aadhar Services on SMS] आधार सर्विस को SMS से कैसे प्राप्त करें?

174

Aadhar Services on SMS यूनिक आइडेंटिफिकेशन अथॉरिटी ऑफ इंडिया ने नागरिकों की सुविधा हेतु यूआईडीएआई पोर्टल तथा एम आधार मोबाइल एप्लीकेशन के साथ-साथ आधार सेवाएं SMS से प्राप्त करने के लिए  ‘Aadhar Services on SMS’ लॉन्च की है। जो आधार उपयोगकर्ता इंटरनेट/ रेजिडेंट पोर्टल/m-Aadhaar तथा अन्य ऑनलाइन माध्यमों से आधार सेवाएं प्राप्त करने में असमर्थ हैं, वे इस नए फीचर के माध्यम से विभिन्न प्रकार की आधार से संबंधित निम्नलिखित सेवाओं का लाभ प्राप्त कर सकते हैं।  

  • वर्चुअल आईडेंटिफिकेशन नंबर जनरेट करने की सुविधा। 
  • इनरोलमेंट आईडेंटिफिकेशन नंबर रिट्रीव करने की सुविधा।
  • आधार को लॉक तथा अनलॉक करने की सुविधा। 
  • आधार बायोमैट्रिक डाटा को लोक तथा अनलॉक करने की सुविधा। 
  • आधार से संबंधित अन्य प्रकार की सीमाएं।

Table of Contents

SMS से आधार सेवाएं कैसे प्राप्त करें? How to Get Aadhar Services on SMS?

आधार सेवाएं SMS (Aadhar Services on SMS) से प्राप्त करने के लिए नागरिकों को अपने आधार कार्ड के साथ रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर से आधार कस्टमर केयर नंबर (टोल फ्री) पर अलग-अलग प्रकार की सुविधाओं के लिए तैयार किए गए विशेष फॉर्मेट में मैसेज भेजना होगा। 

आइए अब मैसेज पर आधारित आधार सेवाओं को पाने का एक एक कर प्रक्रिया जानेंगे

Aadhar Services on SMS के अन्तर्गत Virtual ID कैसे जनरेट करें?

वर्चुअल आईडी जनरेट करने के लिए Aadhar Services on SMS के अन्तर्गत सर्वप्रथम अपने रजिस्टर मोबाइल नंबर के मैसेज बॉक्स में GVID<SPACE>आधार नंबर के अंतिम चार अंक को टाइप करें और इसे आधार कस्टमर केयर नंबर 1947 पर भेज दे। 

उदाहरण: यदि आपका 12 अंकों का आधार कार्ड नंबर 9876-5432-1997 है, तो मैसेज बॉक्स में GVID<Space>1997 टाइप करें और इसे 1947 पर भेजें।

यह भी पढे़:- पहचान या निवास प्रमाण पत्र के बिना आधार आवेदन कैसे करे?

वर्चुअल आईडी रिट्रीव कैसे करें?

Aadhar Services on SMS के अन्तर्गत वर्चुअल आईडी फिर से प्राप्त अर्थात रिट्रीव करने के लिए सर्वप्रथम अपने रजिस्टर मोबाइल नंबर के मैसेज बॉक्स में RVID<SPACE>आधार नंबर के अंतिम चार अंक को टाइप करें और इसे आधार कस्टमर केयर नंबर 1947 पर भेज दे। 

उदाहरण: यदि आपका 12 अंकों का आधार कार्ड नंबर    9876-5432-1997 है, तो मैसेज बॉक्स में RVID<Space>1997 टाइप करें और इसे 1947 पर भेजें।

Aadhar Services on SMS के अन्तर्गत OTP Generate कैसे करें? 

Aadhar Services on SMS के अन्तर्गत आधार कार्ड सेवाओं के लिए ओटीपी जनरेट करने के दो माध्यम है जो इस प्रकार हैं। 

आधार नंबर के माध्यम से ओटीपी जनरेट करना

Aadhar Services on SMS के अन्तर्गत आधार नंबर से ओटीपी जनरेट करने के लिए सर्वप्रथम अपने रजिस्टर मोबाइल नंबर के मैसेज बॉक्स में GETOTP<SPACE>आधार नंबर के अंतिम चार अंक को टाइप करें और इसे आधार कस्टमर केयर नंबर 1947 पर भेज दे। 

उदाहरण: यदि आपका 12 अंकों का आधार कार्ड नंबर    9876-5432-1997 है, तो मैसेज बॉक्स में GETOTP<SPACE>1997 टाइप करें और इसे 1947 पर भेजें।

वर्चुअल आईडी से ओटीपी जनरेट करना।

Aadhar Services on SMS के अन्तर्गत वर्चुअल आईडी से ओटीपी जनरेट करने के लिए सर्वप्रथम अपने रजिस्टर मोबाइल नंबर के मैसेज बॉक्स में GETOTP<SPACE>वर्चुअल आईडी के अंतिम छह अंक को टाइप करें और इसे आधार कस्टमर केयर नंबर 1947 पर भेज दे। 

उदाहरण: यदि आपका 16 अंकों का वर्चुअल आईडी नंबर    9886-5442-1997-6557 है, तो मैसेज बॉक्स में GETOTP<SPACE>976557 टाइप करें और इसे 1947 पर भेजें।

Aadhar Services on SMS के अन्तर्गत आधार को लॉक कैसे करें? 

Aadhar Services on SMS के अन्तर्गत आधार लॉक करने के लिए आपको आधार कस्टमर केयर नंबर पर दो SMS भेजने होंगे।  

प्रथम चरण- आधार लॉक करने के लिए प्रथम स्टेप के अंतर्गत अपने रजिस्टर मोबाइल नंबर के मैसेज बॉक्स में GETOTP<SPACE>आधार नंबर के अंतिम चार अंक को टाइप करें और इसे आधार कस्टमर केयर नंबर 1947 पर भेज दे। आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर 6 अंकों का वन टाइम पासवर्ड प्राप्त होगा। 

द्वितीय चरण – इसके बाद मैसेज बॉक्स में LOCKUID<SPACE> आधार नंबर के अंतिम चार अंक<SPACE>6 अंकों का OTP टाइप करें और फिर से आधार कार्ड कस्टमर केयर नंबर 1947 पर भेजें।

उदाहरण: यदि आपका 12 अंकों का आधार कार्ड नंबर    9886-5442-1997 है, तो प्रथम स्टेप के अंतर्गत मैसेज बॉक्स में GETOTP<SPACE>1997 टाइप करें और इसे 1947 पर भेजें।

द्वितीय स्टेप के अंतर्गत अगर आपके पास 6 अंको का ओटीपी 123456 प्राप्त हुआ है तो अपने मोबाइल के मैसेज बॉक्स में LOCKUID<SPACE> 1997<SPACE>123456 टाइप करें और 1947 पर भेज दे। यूआईडीएआई द्वारा आपके इनपुट के आधार पर आपके आधार यूआईडी को लॉक कर दिया जाएगा।

आधार कार्ड लॉक करते समय ध्यान देने योग्य बातें

  • आधार कार्ड को लॉक करने के लिए पहले से जनरेटर वर्चुअल आईडी की आवश्यकता होती है। वर्चुअल आईडी के बिना आधार कार्ड को नहीं किया जा सकता है।
  • अगर एक से अधिक आधार नंबर से एक ही मोबाइल लिंक है तो दो डिपेंडेंट के 4 डिजिट आधार कार्ड नंबर एक ही रहेंगे जबकि अन्य के लिए द्वितीय प्रक्रिया में रजिस्टर मोबाइल नंबर से LOCKUID<SPACE>आधार नंबर के अंतिम 8 अंक<SPACE>6 अंकों का OTP वाला मैसेज 1947 पर भेजना होगा। 

यह भी पढे़:- ई आधार कार्ड पीडीएफ फाइल से पासवर्ड कैसे हटाए?

Aadhar Services on SMS के अन्तर्गत आधार को अनलॉक कैसे करें? 

आधार अनलॉक करने के लिए भी आपको आधार कस्टमर केयर नंबर पर दो SMS भेजने होंगे।  

प्रथम चरण- आधार अनलॉक करने के लिए प्रथम स्टेप के अंतर्गत अपने रजिस्टर मोबाइल नंबर के मैसेज बॉक्स में GETOTP<SPACE>वर्चुअल आईडी के अंतिम 6 अंक को टाइप करें और इसे आधार कस्टमर केयर नंबर 1947 पर भेज दे। आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर 6 अंकों का वन टाइम पासवर्ड प्राप्त होगा। 

द्वितीय चरण- इसके बाद द्वितीय स्टेप में मैसेज बॉक्स में UNLOCKUID<SPACE> virtual ID के अंतिम 6 अंक<SPACE>6 अंकों का OTP टाइप करें और फिर से आधार कार्ड कस्टमर केयर नंबर 1947 पर भेजें।

उदाहरण: यदि आपका 16 अंकों का आधार कार्ड वर्चुअल आईडी नंबर    9886-5442-1997-1234 है, तो प्रथम स्टेप के अंतर्गत मैसेज बॉक्स में GETOTP<SPACE>971234 टाइप करें और इसे 1947 पर भेजें।

द्वितीय स्टेप के अंतर्गत अगर आपके पास 6 अंको का ओटीपी 123456 प्राप्त हुआ है, तो अपने मोबाइल के मैसेज बॉक्स में UNLOCKUID<SPACE> 971234<SPACE>123456 टाइप करें और 1947 पर भेज दे। यूआईडीएआई द्वारा आपके इनपुट के आधार पर आपके आधार यूआईडी को अनलॉक कर दिया जाएगा।

आधार नंबर अनलॉक करने के लिए वर्चुअल आईडी आवश्यकता है। अगर आपका मोबाइल नंबर एक से अधिक आधार कार्ड से लिंक है तो दो डिपेंडेंट के लिए 6 अंको की आधार वर्चुअल आईडी एक ही रहेगी जबकि अन्य आधार नंबर के लिए द्वितीय चरण के अंतर्गत मैसेज बॉक्स में UNLOCKUID<SPACE>वर्चअल आईडी के अंतिम 10 अंक<SPACE>6 अंकों का OTP टाइप करें और उसे आधार कस्टमर केयर नंबर 1947 पर भेजें।

उदाहरण: यदि आपका 16 अंकों का आधार कार्ड वर्चुअल आईडी नंबर    9886-5442-1997-1234 है, तो 

द्वितीय स्टेप के अंतर्गत अगर आपके पास 6 अंको का ओटीपी 123456 प्राप्त हुआ है, तो अपने मोबाइल के मैसेज बॉक्स में UNLOCKUID<SPACE> 4219971234<SPACE>123456 टाइप करें और 1947 पर भेज दे।

Aadhar Services on SMS के अन्तर्गत बायोमेट्रिक डाटा को लॉक कैसे करें? 

Aadhar Services on SMS के अन्तर्गत आधार बायोमैट्रिक डाटा को आधार कार्ड नंबर तथा वर्चुअल आईडी दोनों के माध्यम से लॉक किया जा सकता है।

आधार नंबर के माध्यम से

आधार कार्ड नंबर के माध्यम से बायोमैट्रिक डाटा को SMS सेवा के अंतर्गत लॉक करने के लिए दो चरणीय SMS सेवा का पालन करना होगा। 

प्रथम चरण –  Aadhar Services on SMS के अन्तर्गतआधार बायोमैट्रिक डाटा को लॉक करने के लिए प्रथम स्टेप के अंतर्गत अपने रजिस्टर मोबाइल नंबर के मैसेज बॉक्स में GETOTP<SPACE>आधार नंबर के अंतिम चार अंक को टाइप करें और इसे आधार कस्टमर केयर नंबर 1947 पर भेज दे। आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर 6 अंकों का वन टाइम पासवर्ड प्राप्त होगा। 

दूसरा चरण- इसके बाद द्वितीय स्टेप में मैसेज बॉक्स में ENABLEBIOLOCK<SPACE> Aadhaar-Number- last-4-digits<SPACE>6 अंकों का OTP टाइप करें और फिर से आधार कार्ड कस्टमर केयर नंबर 1947 पर भेजें।

उदाहरण: यदि आपका 12 अंकों का आधार कार्ड नंबर    9886-5442-1997 है, तो प्रथम स्टेप के अंतर्गत मैसेज बॉक्स में GETOTP<SPACE>1997 टाइप करें और इसे 1947 पर भेजें।

द्वितीय स्टेप के अंतर्गत अगर आपके पास 6 अंको का ओटीपी 123456 प्राप्त हुआ है, तो अपने मोबाइल के मैसेज बॉक्स में ENABLEBIOLOCK<SPACE>1997<SPACE>123456 टाइप करें और 1947 पर भेज दे। यूआईडीएआई द्वारा आपके इनपुट के आधार पर आपके आधार यूआईडी बायोमैट्रिक डाटा को लॉक कर दिया जाएगा।

नोट- यदि आपका आधार कार्ड पहले से लॉक है, तो आप यूआईडीएआई की इस एसएमएस सेवा का लाभ प्राप्त नहीं कर सकते हैं। अगर आपका मोबाइल नंबर एक से अधिक आधार कार्ड से लिंक है तो 2 डिपेंडेंट के लिए 4 अंको का आधार नंबर एक ही रहेगा जबकि अन्य आधार नंबर के लिए द्वितीय चरण के अंतर्गत मैसेज बॉक्स में ENABLEBIOLOCK<SPACE>आधार कार्ड के अंतिम 8 अंक<SPACE>6 अंकों का OTP टाइप करें और उसे आधार कस्टमर केयर नंबर 1947 पर भेजें।

उदाहरण: यदि आपका 12 अंकों का आधार कार्ड नंबर    9886-5442-1997 है, तो 

द्वितीय स्टेप के अंतर्गत अगर आपके पास 6 अंको का ओटीपी 123456 प्राप्त हुआ है, तो अपने मोबाइल के मैसेज बॉक्स में ENABLEBIOLOCK<SPACE>54421997<SPACE>123456 टाइप करें और 1947 पर भेज दे।

यह भी पढे़:- आधार कार्ड से लिंक मोबाइल नम्बर कैसे बदले?

वर्चुअल आईडी के माध्यम से

वर्चुअल आईडी नंबर के माध्यम से बायोमैट्रिक डाटा को Aadhar Services on SMS के अंतर्गत लॉक करने के लिए दो चरणीय SMS सेवा का पालन करना होगा। 

प्रथम चरण –  Aadhar Services on SMS के अन्तर्गत आधार बायोमैट्रिक डाटा लॉक करने के लिए प्रथम स्टेप के अंतर्गत अपने रजिस्टर मोबाइल नंबर से GETOTP<SPACE>वर्चुअल आईडी के अंतिम 6 अंक वाले मैसेज को आधार कस्टमर केयर नंबर 1947 पर भेज दे। आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर 6 अंकों का ओटीपी प्राप्त होगा। 

दूसरा चरण- इसके बाद द्वितीय स्टेप में  ENABLEBIOLOCK<SPACE> वर्चुअल आईडी के अंतिम 6 अंक<SPACE>6 अंकों का OTP वाले मैसेज को फिर से आधार कार्ड कस्टमर केयर नंबर 1947 पर भेजें।

उदाहरण: यदि आपका 16 अंकों का आधार कार्ड वर्चुअल आईडी नंबर    9886-5442-1997-0123 है, तो प्रथम स्टेप के अंतर्गत मैसेज बॉक्स में GETOTP<SPACE>970123 टाइप करें और इसे 1947 पर भेजें।

द्वितीय स्टेप के अंतर्गत अगर आपके पास 6 अंको का ओटीपी 654321 प्राप्त हुआ है, तो अपने मोबाइल के मैसेज बॉक्स में ENABLEBIOLOCK<SPACE>970123<SPACE>654321 टाइप करें और 1947 पर भेज दे। यूआईडीएआई द्वारा आपके इनपुट के आधार पर आपके आधार बायोमैट्रिक डाटा को लॉक कर दिया जाएगा।

नोट- अगर आपका आधार कार्ड लोक है, तो आप इस सेवा का लाभ प्राप्त नहीं कर सकते हैं। यदि आपका मोबाइल नंबर एक से अधिक आधार कार्ड से लिंक है, तो 2 डिपेंडेंट के लिए 6 अंको का वर्चुअल आईडी नंबर एक ही रहेगा जबकि अन्य आधार नंबर के लिए द्वितीय चरण के अंतर्गत मैसेज बॉक्स में ENABLEBIOLOCK<SPACE>वर्चुअल आईडी के अंतिम 10 अंक<SPACE>6 अंकों का OTP टाइप करें और उसे आधार कस्टमर केयर नंबर 1947 पर भेजें।

उदाहरण: यदि आपका 16 अंकों का आधार कार्ड वर्चुअल आईडी नंबर    9886-5442-1997-0123 है, तो 

द्वितीय स्टेप के अंतर्गत अगर आपके पास 6 अंको का ओटीपी 654321 प्राप्त हुआ है, तो अपने मोबाइल से ENABLEBIOLOCK<SPACE>4219970123<SPACE>654321 वाला मैसेज 1947 पर भेज दे।

बायोमेट्रिक डाटा को अनलॉक कैसे करें? 

आधार बायोमैट्रिक डाटा को आधार कार्ड नंबर तथा वर्चुअल आईडी दोनों के माध्यम से Aadhar Services on SMS के अन्तर्गत अनलॉक किया जा सकता है।

आधार नंबर के माध्यम से

आधार कार्ड नंबर के माध्यम से बायोमैट्रिक डाटा को Aadhaar Services on SMS के अन्तर्गत दो SMS चरणों में अनलॉक किया जा सकता है।  प्रथम चरण –  आधार बायोमैट्रिक डाटा अनलॉक करने के लिए प्रथम स्टेप के अंतर्गत अपने रजिस्टर मोबाइल नंबर से GETOTP<SPACE>आधार नंबर के अंतिम चार अंक वाले मैसेज को 1947 पर भेज दे। आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर 6 अंकों का ओटीपी प्राप्त होगा। 

दूसरा चरण- इसके बाद मैसेज बॉक्स में DIABLEBIOLOCK<SPACE> Aadhaar-Number- last-4-digits<SPACE>6 अंकों का OTP टाइप करें और फिर से आधार ग्राहक सेवा नंबर 1947 पर भेजें।

यह भी पढे़:- एनरोलमेंट आईडी से ई आधार कार्ड कैसे डाउनलोड करे?

उदाहरण: यदि आपका 12 अंकों का आधार कार्ड नंबर नंबर    9996-5442-1997 है, तो प्रथम स्टेप के अंतर्गत मैसेज बॉक्स में GETOTP<SPACE>1997 टाइप करें और इसे 1947 पर भेजें।

द्वितीय स्टेप के अंतर्गत अगर आपके पास 6 अंको का ओटीपी 101234 प्राप्त हुआ है, तो अपने मोबाइल के मैसेज बॉक्स में DIABLEBIOLOCK<SPACE>1997<SPACE>101234 टाइप करें और 1947 पर भेज दे। यूआईडीएआई द्वारा आपके इनपुट के आधार पर आपके आधार यूआईडी बायोमैट्रिक डाटा को अनलॉक कर दिया जाएगा।

नोट- यदि आपका आधार कार्ड पहले से लॉक है, तो आप यूआईडीएआई की इस एसएमएस सेवा का लाभ प्राप्त नहीं कर सकते हैं और आपका मोबाइल नंबर एक से अधिक आधार कार्ड से लिंक है तो 2 डिपेंडेंट के लिए 4 अंको का आधार नंबर एक ही रहेगा जबकि अन्य आधार नंबर के लिए द्वितीय चरण के अंतर्गत मैसेज बॉक्स में DIABLEBIOLOCK<SPACE>आधार कार्ड के अंतिम 8 अंक<SPACE>6 अंकों का OTP टाइप करें और उसे आधार ग्राहक सेवा टोल फ्री नंबर 1947 पर भेजें।

उदाहरण: यदि आपका 12 अंकों का आधार कार्ड नंबर    9886-5442-1997 है, तो 

द्वितीय स्टेप के अंतर्गत अगर आपके पास 6 अंको का ओटीपी 101234 प्राप्त हुआ है, तो अपने मोबाइल के मैसेज बॉक्स में DIABLEBIOLOCK<SPACE>54421997<SPACE>101234 टाइप करें और आधार कार्ड कस्टमर केयर टोल फ्री नंबर 1947 पर भेज दे।

वर्चुअल आईडी के माध्यम से

आधार वर्चुअल आईडी नंबर के माध्यम से बायोमैट्रिक डाटा को Aadhar Services on SMS के अन्तर्गत अनलॉक करने के लिए दो चरणीय SMS सेवा का पालन करें। 

प्रथम चरण –  Aadhar Services on SMS के अन्तर्गत आधार बायोमैट्रिक डाटा अनलॉक करने के लिए प्रथम स्टेप के अंतर्गत अपने रजिस्टर मोबाइल नंबर से GETOTP<SPACE>वर्चुअल आईडी के अंतिम 6 अंक वाले मैसेज को आधार कस्टमर केयर टोल फ्री नंबर 1947 पर भेज दे। आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर 6 अंकों का ओटीपी प्राप्त होगा। 

दूसरा चरण- इसके बाद DIABLEBIOLOCK<SPACE> वर्चुअल आईडी के अंतिम 6 अंक<SPACE>6 अंकों का OTP वाले मैसेज को फिर से आधार कार्ड कस्टमर केयर नंबर 1947 पर भेजें।

उदाहरण: यदि आपका 16 अंकों का आधार कार्ड वर्चुअल आईडी नंबर    9896-5442-1997-0123 है, तो प्रथम स्टेप के अंतर्गत मैसेज बॉक्स में GETOTP<SPACE>970123 टाइप करें और इसे आधार ग्राहक सेवा नंबर 1947 पर भेजें।

द्वितीय स्टेप के अंतर्गत अगर आपके पास 6 अंको का ओटीपी 210123 प्राप्त हुआ है, तो अपने मोबाइल के मैसेज बॉक्स में DIABLEBIOLOCK<SPACE>970123<SPACE>210123 टाइप करें और 1947 पर भेज दे। यूआईडीएआई द्वारा आपके इनपुट के आधार पर आपके आधार बायोमैट्रिक डाटा को अनलॉक कर दिया जाएगा।

नोट- यदि आपका मोबाइल नंबर एक से अधिक आधार कार्ड से लिंक है, तो 2 डिपेंडेंट के लिए 6 अंको का वर्चुअल आईडी नंबर एक ही रहेगा जबकि अन्य आधार नंबर के लिए द्वितीय चरण के अंतर्गत मैसेज बॉक्स में DIABLEBIOLOCK<SPACE>वर्चुअल आईडी के अंतिम 10 अंक<SPACE>6 अंकों का OTP टाइप करें और उसे आधार कस्टमर केयर नंबर 1947 पर भेजें।

उदाहरण: यदि आपका 16 अंकों का आधार कार्ड वर्चुअल आईडी नंबर    9896-5442-1997-0123 है, तो 

द्वितीय स्टेप के अंतर्गत अगर आपके पास 6 अंको का ओटीपी 210123 प्राप्त हुआ है, तो अपने मोबाइल से DIABLEBIOLOCK<SPACE>4219970123<SPACE>210123 वाला मैसेज 1947 पर भेज दे।

बायोमेट्रिक डाटा को अस्थाई रूप से अनलॉक कैसे करें? 

Aadhar Services on SMS के अन्तर्गत आधार बायोमैट्रिक डाटा को आधार कार्ड नंबर तथा वर्चुअल आईडी दोनों के माध्यम से अस्थाई रूप से अनलॉक किया जा सकता है।

यह भी पढे़:- आधार कार्ड को राशन कार्ड से लिंक कैसे करे?

आधार नंबर के माध्यम से

आधार कार्ड नंबर के माध्यम से बायोमैट्रिक डाटा को Aadhar Services on SMS के अन्तर्गत दो SMS चरणों में अस्थाई रूप से अनलॉक किया जा सकता है।  

प्रथम चरण –  आधार बायोमैट्रिक डाटा अस्थाई रूप से अनलॉक करने के लिए सर्वप्रथम अपने रजिस्टर मोबाइल नंबर से GETOTP<SPACE>आधार नंबर के अंतिम चार अंक वाले मैसेज को आधार कस्टमर केयर नंबर 1947 पर भेजें। आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर ओटीपी प्राप्त होगा। 

दूसरा चरण- इसके बाद मैसेज बॉक्स में UNBLOCKBIO<SPACE> Aadhaar-Number- last-4-digits<SPACE>6 अंकों का OTP टाइप करें और फिर से आधार ग्राहक सेवा टोल फ्री नंबर 1947 पर भेजें।

उदाहरण: यदि आपका 12 अंकों का आधार कार्ड नंबर नंबर    8996-5442-1997 है, तो प्रथम स्टेप के अंतर्गत मैसेज बॉक्स में GETOTP<SPACE>1997 टाइप करें और इसे 1947 पर भेजें।

द्वितीय स्टेप के अंतर्गत अगर आपके पास 6 अंको का ओटीपी 340123 प्राप्त हुआ है, तो अपने मोबाइल के मैसेज बॉक्स में UNBLOCKBIO<SPACE>1997<SPACE>340123 टाइप करें और 1947 पर भेज दे। यूआईडीएआई द्वारा आपके इनपुट के आधार पर आपके आधार यूआईडी बायोमैट्रिक डाटा को अस्थाई रूप से अनलॉक कर दिया जाएगा।

नोट- यदि आपका आधार कार्ड पहले से लॉक है, तो आप यूआईडीएआई की मैसेज के माध्यम से अस्थाई रूप से बायोमैट्रिक डाटा को अनलॉक करने की सेवा का लाभ प्राप्त नहीं कर सकते हैं और यदि आपका मोबाइल नंबर एक से अधिक आधार कार्ड से लिंक है तो 2 डिपेंडेंट के लिए 4 अंको का आधार नंबर एक ही रहेगा जबकि अन्य आधार नंबर के लिए द्वितीय चरण के अंतर्गत मैसेज बॉक्स में UNBLOCKBIO<SPACE>आधार कार्ड के अंतिम 8 अंक<SPACE>6 अंकों का OTP टाइप करें और उसे आधार ग्राहक सेवा नंबर 1947 पर भेजें।

उदाहरण: यदि आपका 12 अंकों का आधार कार्ड नंबर    8886-5442-1997 है, तो 

द्वितीय स्टेप के अंतर्गत अगर आपके पास 6 अंको का ओटीपी 341234 प्राप्त हुआ है, तो अपने मोबाइल के मैसेज बॉक्स में UNBLOCKBIO<SPACE>54421997<SPACE>341234 टाइप करें और आधार कार्ड टोल फ्री नंबर 1947 पर भेज दे।

वर्चुअल आईडी के माध्यम से

आधार वर्चुअल आईडी नंबर के माध्यम से बायोमैट्रिक डाटा को SMS सेवा के अंतर्गत अस्थाई रूप से अनलॉक करने के लिए दो चरणीय SMS सेवा का पालन करें। 

प्रथम चरण –  Aadhar Services on SMS के अन्तर्गत आधार बायोमैट्रिक डाटा अस्थाई रूप से अनलॉक करने के लिए प्रथम स्टेप के अंतर्गत अपने रजिस्टर मोबाइल नंबर से GETOTP<SPACE>वर्चुअल आईडी के अंतिम 6 अंक वाले मैसेज को आधार कस्टमर केयर टोल फ्री नंबर 1947 पर भेज दे। आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर 6 अंकों का ओटीपी प्राप्त होगा। 

दूसरा चरण- इसके बाद UNBLOCKBIO<SPACE> वर्चुअल आईडी के अंतिम 6 अंक<SPACE>6 अंकों का OTP वाले मैसेज को फिर से आधार कार्ड कस्टमर केयर नंबर 1947 पर भेजें।

उदाहरण: यदि आपका 16 अंकों का आधार कार्ड वर्चुअल आईडी नंबर    9896-5442-1997-0123 है, तो प्रथम स्टेप के अंतर्गत मैसेज बॉक्स में GETOTP<SPACE>970123 टाइप करें और इसे आधार ग्राहक सेवा नंबर 1947 पर भेजें।

द्वितीय स्टेप के अंतर्गत अगर आपके पास 6 अंको का ओटीपी 123123 प्राप्त हुआ है, तो अपने मोबाइल के मैसेज बॉक्स में UNBLOCKBIO<SPACE>970123<SPACE>123123 टाइप करें और टोल फ्री नंबर 1947 पर भेज दे। यूआईडीएआई द्वारा आपके इनपुट के आधार पर आपके आधार बायोमैट्रिक डाटा को अस्थाई रूप से अनलॉक कर दिया जाएगा।

नोट- यदि आपका मोबाइल नंबर एक से अधिक आधार कार्ड से लिंक है, तो 2 डिपेंडेंट के लिए 6 अंको का वर्चुअल आईडी नंबर एक ही रहेगा जबकि अन्य आधार नंबर के लिए द्वितीय चरण के अंतर्गत मैसेज बॉक्स में UNBLOCKBIO<SPACE>वर्चुअल आईडी के अंतिम 10 अंक<SPACE>6 अंकों का OTP टाइप करें और उसे आधार कस्टमर केयर नंबर 1947 पर भेजें।

उदाहरण: यदि आपका 16 अंकों का आधार कार्ड वर्चुअल आईडी नंबर    9896-5442-1997-0123 है, तो 

द्वितीय स्टेप के अंतर्गत अगर आपके पास 6 अंको का ओटीपी 213123 प्राप्त हुआ है, तो अपने मोबाइल से UNBLOCKBIO<SPACE>4219970123<SPACE>213123 वाला मैसेज 1947 पर भेज दे।

निष्कर्ष

यूनिक आइडेंटिफिकेशन अथॉरिटी ऑफ इंडिया में जिन लोगों के पास इंटरनेट कनेक्शन नहीं है अथवा एंड्राइड मोबाइल फोन अथवा आईफोन नहीं है। उन लोगों को आधार कार्ड से संबंधित सेवाओं का लाभ प्राप्त करने के लिए आधार कार्ड एसएमएस सेवा (Aadhar Services on SMS) को शुरू किया है। इस सेवा के माध्यम से नागरिक अपने आधार कार्ड के बायोमैट्रिक डाटा को अस्थाई रूप से अनलॉक, बायोमैट्रिक डाटा को लॉक, बायोमेट्रिक डाटा को अनलॉक, आधार कार्ड नंबर को लॉक, आधार कार्ड नंबर को अनलॉक करने जैसी अनेक प्रकार की सेवाओं का लाभ घर बैठे Aadhar Services on SMS के माध्यम से प्राप्त कर सकते हैं। 

यह भी अवश्य पढे़:- आधार आवेदन फार्म डाउनलोड कैसे करे?

Previous articleआधार कार्ड का स्टेटस कैसे चेक करें?|Aadhar Card Manual Check Status Process
Next articleयूआईडीएआई आधार आईडेंटिफिकेशन हिस्ट्री चेक कैसे करे?|Check UIDAI Aadhaar Authentication History
I am a part-time blogger, Hindi Abhimaan is a platform where people are informed about various schemes launched by the Government of India and various state governments as well as various services being run to make the benefits of these schemes accessible to the general public so that People can have easy access to these services.